सफलता के लिए आभार व्यक्त करें | Gratitude affirmation in hindi

धन्यवाद की शक्ति | power of gratitude affirmation in hindi


power of gratitude affirmation in hindi

power of gratitude affirmation in hindi


दोस्तों आज इस पोस्ट में आप जानोगे ऐसा शक्तिशाली मंत्र जिसकी एनर्जी को अनेक देशों मैं वैज्ञानिक तौर पर कई शोधों के तहत साबित और सत्यापित किया जा चुका है एक high-frequency शब्द है जो आपके दिमाग की फ्रीक्वेंसी को हायर एनर्जी पर रेडिएट कर हाई फ्रिकवेंसी पर ले जाने में आपकी मदद करता है। जिसके बारे में कुछ महान विचारकों का ऐसा मानना है कि ब्रह्मांड की सभी शक्तियों को केवल एक शब्द में समेट दिया जाए तो वह शब्द होगा शुक्रिया धन्यवाद, या थैंक यू..!! यही ब्रह्मांड का high-energy शब्द है इसी शब्द का चंद मिनट का अभ्यास किसी की भी जिंदगी बदलने की ताकत रखता है और इस अभ्यास को हिंदी में कहते हैं “कृतज्ञता का अभ्यास” और इंग्लिश में “practice of gratitude” कहते हैं।


कृतज्ञता के अभ्यास को जानने के लिए पिछले 10 सालों में कई तरह के शोध और प्रयोग किए गए हैं। आप भी हर दिन चंद मिनट के अभ्यास करने से ब्रह्मांड में मौजूद अनंत संभावनाओं से कई लाभ उठाए जा सकते हैं।


ऐसे ही एक रिसर्च के दौरान 12 हफ्तों के लिए कुछ कॉलेज के 300 स्टूडेंट को चुना गया जिन्हें किसी ना किसी तरह की मानसिक चिंता और तनाव की शिकायत थी इन 300 स्टूडेंट को 3 ग्रुप्स में बांट दिया गया। ग्रुप ए ग्रुप बी और ग्रुप सी और इन तीनों ग्रुप को एक जैसी काउंसलिंग दी गई और ग्रुप ए को हर हफ्ते एक लेटर लिखने को कहा गया उस लेटर में उन्हें किसी एक व्यक्ति को थैंक्स मतलब कृतज्ञता व्यक्त करने को कहा गया ग्रुप बी को हर हफ्ते एक पेज पर अपने नकारात्मक अनुभव और विचारों को लिखने को कहा गया और ग्रुप सी को कुछ भी लिखने का कार्य नहीं दिया गया सिर्फ काउंसलिंग दी गई इस प्रयोग के नतीजे हैरान कर देने वाले थे।


ग्रुप ए के स्टूडेंट जो हर हफ्ते किसी एक व्यक्ति के लिए थैंक्स या आभार का लेटर लिख रहे थे उन्हें चौथे हफ्ते में ही तनाव और चिंता से कुछ राहत मिलने लगी और 12 हफ्ते में तो उन्हें मानसिक शारीरिक और भावनात्मक रूप से सकारात्मकता दिखने लगी। ग्रुप बी को नकारात्मक अनुभव और विचारों को लिखने के लिए कहा गया था उनमें अधिकतर स्टूडेंट में तनाव चिंता में कोई फर्क नहीं दिखाई दिया बल्कि कुछ स्टूडेंट ने पहले से ज्यादा तनाव दिखाई देने की शिकायत की। ग्रुप सी जिसमें सभी स्टूडेंट की सिर्फ काउंसलिंग की गई उनमें कोई सुधार नहीं देखा गया।


इसके बाद 12 हफ्ते बाद तीनों ग्रुप्स के ब्रेन में आए बदलाव की वैज्ञानिक रूप से तुलनात्मक जांच करने के लिए हर ग्रुप में से कुछ स्टूडेंट्स को चुना गया और उनकी प्एक्टिविटी को देखने के लिए एमआरआई स्कैनर का यूज़ किया गया और साथ ही इन स्टूडेंट को इस दौरान कुछ स्पेशल टास्क भी दिए गए और इन टास्क में भी ग्रुप ए के नतीजे काफी सकारात्मक और संतोषजनक रहे जबकि ग्रुप बी और ग्रुप सी में ऐसे बदलाव नहीं दिखे और यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि ग्रुप ऐ ने हर हफ्ते में एक ही बार कृतज्ञता या आभार का लेटर लिखा था इस पूरे एक्सपेरिमेंट के बाद शोधकर्ताओं ने यह माना कि कृतज्ञता का अभ्यास ब्रेन और बॉडी में चमत्कारिक रूप से सकारात्मक बदलाव लाता है जिससे ना केवल तनाव और परेशानी से छुटकारा मिलता है बल्कि इसके नियमित अभ्यास से आप अपनी जिंदगी के अन्य क्षेत्रों में भी खुद को सकारात्मक और भावनात्मक रूप से मजबूत महसूस करते हैं।


पिछले 10 सालों में ऐसे ही अनेकों रिसर्च से वैज्ञानिक तौर पर यह बात प्रमाणित हो चुकी है कि दिमाग में कृतज्ञता के आते ही दिमाग का वह हिस्सा जो लेफ्ट ब्रेन और राइट ब्रेन को कंट्रोल करता है जिसे medial prefrontal cortex भी कहा जाता है वह हिस्सा एक्टिवेट हो जाता है और साथ ही डोपामिन और शार्टएक्स जैसे खुशी देने वाले हार्मोन भी दिमाग में प्रोड्यूस होने लगते हैं जो डिप्रेशन डर चिंता को कम करते हैं और खुशी का एहसास कराते हैं।


चंद मिनट अगर नियमित कृतज्ञता का अभ्यास किया जाए तो बॉडी, ब्रेन ओर व्यक्तित्व और कैरियर और सामाजिक स्तर पर कई फायदे होते हैं आप इमोशनली तौर पर ज्यादा रिलैक्स और ज्यादा बेहतर फील करते हैं और मन में जलन जैसी भावनाओं में कमी आती है और भावनात्मक रूप से आप ज्यादा खुश रहने लगते हैं।


Gratitude हमारी जिंदगी को कई तरीकों से बदल सकता है लेकिन पहले हमें अपने आपको देखना होगा कि हम कहां हैं हमें अपने अंदर झांकना होगा और सबकुछ बाहर निकालना होगा। असल में हम जिन चीजों के लिए कृतज्ञ नहीं होते उन चीजों के लिए हम ईमानदार भी नहीं होते हैं हम चाहते हैं कि हम चीजों को लेकर thankful रहे हैं लेकिन हम यह नहीं करते। इसीलिए कुछ टाइम निकाल ले अपनी जिंदगी को थोड़ा और गहराई से देखने के लिए द सीक्रेट की किताब में Gratitude के लिए एक सिंपल सा फार्मूला दिया है वह फॉर्मूला यह है कि किसी भी चीज के बारे में सोचो और उसके लिए दुनिया को थैंक यू बोलो तो वह सच में होगा लेकिन यहां पर कुछ स्टेप्स मिसिंग हैं जैसे जिन चीजों को आप पाना चाहते हैं या ठीक करना चाहते हैं उसके लिए आपको एक्शन लेना भी जरूरी है ना कि सिर्फ सोचने से ही कुछ होगा इसमें कोई डाउट नहीं है कि Gratitude सच में हेल्प करता है और सच में यह बहुत सिंपल है।


जब हम अपने सोचने का तरीका बदलते हैं और अपनी जिंदगी को थैंकफूलनेस से भर देते हैं तो कुछ भी पहले जैसा नहीं रहता है हमें अपनी जिंदगी को हमेशा के लिए बदलने का काम शुरू करने चाहिए ताकि वह और भी बेहतर होती जाए ऐसी कुछ चीजें हैं जिनके लिए आप ग्रेट फुल हो सकते हैं।


● एक सच कि मैं जिंदा हूं


● जो पानी आप नल से पी रहे हो जो कि सुरक्षित है


● पेट भरने के लिए हमारे पास खाना है


● मैं जैसा हूं खुद को वैसा ही एक्सेप्ट करता हूं


जिन लोगों को मैं चाहता हूं जो लोग मेरे बहुत करीब हैं, जिन लोगों ने मुझे जन्म दिया और जिन्होंने मुझे बड़ा किया, हमारे गुरु हमारे स्कूल और कॉलेज के दोस्त सभी को आभार।


शुरुआत करने के लिए आप इस लिस्ट को शुरू कर सकते हैं और जो भी मिस हुआ है उसे भी आप इसमें जोड़ सकते है। इस लिस्ट को किसी दीवार पर यह जहां भी आप उसे आसानी से देख सकते वहां लगा सकते हैं पूरे दिन आपको इन सभी चीजों के लिए थैंकफूल होना है जल्दी ही यह आपके रूटीन में आ जाएगा और आप ज्यादा चीजें अट्रैक्ट कर पाएंगे जिनके लिए भी आप थैंकफूल हैं।


थैंक्यू बोलने वाला एक अच्छा मोटीवेटर होता है जो अपने काम के वातावरण में एक अच्छा माहौल बनाता है ग्रेटफुल लोग अपनी ब्लेसिंग को काउंट करते हैं और अपनी सक्सेस को पाने की क्षमता रखते हैं और जब उनके साथ कुछ अच्छा होता है तो उसे स्वीकार करने के लिए तैयार रहते हैं gratitude की सबसे अच्छी बात यह है कि यह पावर के लिए दरवाजा खोलता है आपको इंटेलिजेंट बनाता है।


असुरक्षा की भावना में कमी, आपके व्यक्तित्व में ठहराव, स्वार्थ में कमी और आत्मविश्वास में मजबूती आती है। आप खुद को आशावादी आध्यात्मिक और मोटिवेट महसूस करते हैं और साथ ही साथ संतोष की अनुभूति भी होती है। सामाजिक तौर पर दोस्ती प्यार और परिवार हर क्षेत्र में ताजगी मजबूती आती है, सकारात्मक बदलाव आने लगते हैं इम्यून सिस्टम मजबूत होता है नींद अच्छी आती है और आप ज्यादा एनर्जी महसूस करते हैं आप कम बीमार पड़ते हैं और आपकी जिंदगी में कुछ साल एक्स्ट्रा जुड़ जाते हैं।

केरियर और बिजनेस में आपकी प्रोडक्टिविटी आप के निर्णय लेने की क्षमता बेहतर होती है


अगर आप खुशी को ढूंढना चाहते हो तो gratitude को ढूंढो gratitude आपको एक बेहतर इंसान बनाता है और आप अच्छी चीजें अट्रैक्ट कर पाते हैं अपने दिन को अच्छे दिल से और पॉजिटिव थॉट से शुरू करना चाहिए थैंक यू वर्ड पावर और हैप्पीनेस के बिल्कुल बराबर है। याद रखिये gratitude काम करता है यह पावरफुल है और फ्री है तो उन चीजों के लिए थिंकफूल रहे हैं जो आपकी जिंदगी में है।


भगवान को gratitude देने का सबसे अच्छा तरीका है सभी चीजों को एक्सेप्ट करें और परेशानियों का हंसकर सामना करें।






Post a Comment

0 Comments