एप्पल के फाउंडर स्टीव जॉब्स की इंस्पिरेशनल स्पीच | Steve Jobs Inspirational Speech In Hindi

स्टीव जॉब्स की इंस्पिरेशनल स्पीच | Steve Jobs Inspirational Speech In Hindi


Steve Jobs Inspirational Speech In Hindi


एप्पल के फाउंडर स्टीव जॉब्स की इंस्पिरेशनल स्पीच | Steve Jobs Inspirational Speech In Hindi


एप्पल के संस्थापक स्टीव जॉब्स ने अपनी जिंदगी के किस्सों के माध्य्म से बताया था कि आज की असफलताओं में ही कल की सफलता जुड़ी हो सकती है। तो चलिए पढ़ते हैं उनकी इंस्पिरेशनल स्पीच के कुछ अंश।


मेरी जिंदगी की शुरुआत असफलता से हुई। मैंने 6 महीने में ही कॉलेज छोड़ दिया था फिर 18 महीनों तक में कॉलेज से यूं ही जुड़ा रहा। और फिर आखिरकार उसे पूरी तरह छोड़ दिया। मुझे लग रहा था कि मैं इस कॉलेज पर अपने मां-बाप का बहुत पैसा बर्बाद कर रहा हूं। इसलिए मैंने उसे छोड़ दिया और सोचा कि कुछ ना कुछ हो ही जाएगा। यह फैसला मुश्किल था और उस समय डरावना भी। लेकिन पीछे मुड़कर देखने पर जरूर मुझे यह अपना सर्वश्रेष्ठ फैसला लगता है।


मैंने इस फैसले में अवसर तलाशे चूँकि मुझे सामान्य कक्षाओं में नहीं जाना पड़ता था , इसीलिए मैं जो चाहता था सीखता था, मैंने कैलीग्राफी सीखी, विभिन्न टाइपोग्राफी के बारे में जाना, तब ऐसा लगता था कि यह सब मेरी जिंदगी में शायद ही काम आए लेकिन जिंदगी की यही खासियत है यह अनुभव देती है जो कभी भी काम आ सकते हैं। जब 10 साल पहले हमने अपना पहला मैकिनटोश कंप्यूटर बनाया तो यह सब काम आया क्योंकि वह खूबसूरत टाइपोग्राफी वाला पहला कंप्यूटर था।


जिंदगी ऐसे ही एक बिंदु को दूसरी बिंदु से मिलाने के बारे में है। आप पिछले बिंदु को देखे बिना अगले बिंदु पर नहीं जा सकते, जब मैं कॉलेज में था तब बेशक आगे की बिंदु से जुड़ना नामुमकिन था लेकिन 10 साल बाद पीछे मुड़ने पर यह स्पष्ट रूप से नजर आ रहा था। यानि पिछली बिंदु पर खड़े होकर अगली बिंदु स्पष्ट हो यह जरूरी नहीं और पिछली बिंदु को देखे बिना अगली बिंदु से जुड़ना संभव नहीं। इसलिए आपको यह भरोसा करना होगा कि जीवन की सभी बिंदु आगे कहीं ना कहीं जरूर जुड़ेंगे इसके लिए आपको किसी ना किसी पर भरोसा करना होगा। फिर वह चाहे आपके अंदर की भावना हो, किस्मत हो, या जिंदगी का कर्म यह कुछ भी हो सकता है।



जब आप विश्वास करेंगे कि आपकी जिंदगी की मौजूदा बिंदु, भविष्य के किसी बिंदु से जरूर जुड़ेगी तो आपको यहां आत्म विश्वास मिलता है। कि आप अपने दिल की सुने भले ही यह आपको तय रास्ते से अलग ले जाए लेकिन आप कुछ अलग कर पाएंगे बस यही मायने रखता है। आज की बिंदु कि कल से जुड़ने की उम्मीद।


मैं खुशकिस्मत था कि मुझे जिंदगी में वह मिला जिससे मुझे प्यार था मैंने और वाज ने मेरे माता-पिता के गैरेज में कंपनी शुरू की, तब मैं 20 साल का था। अगले 10 साल में वह 2 बिलीयन डॉलर की कंपनी बन गई, जिसमें 4000 कर्मचारी थे और फिर मुझे मेरी ही कंपनी से निकाल दिया गया। मैं फिर असफल महसूस कर रहा था। लेकिन एक बात नहीं बदली थी मुझे अभी भी वह पसंद था जो मैं कर रहा था। मैंने फिर शुरुआत की सफल होने के भारीपन की जगह फिर शुरुआत करने वाले हल्केपन ने ले ली। मैंने इसे भी अवसर बनाया मैंने खुद को रचनात्मक रूप से स्वीकार किया। मैंने कुछ और कंपनियां शुरू की और उनकी सफलता के बाद फिर से एप्पल में वापसी हुई। मुझे यकीन है ऐसा नहीं हुआ होता, अगर मुझे एप्पल से नहीं निकाला गया होता।


जब आप विश्वास करेंगे कि आपकी जिंदगी का मौजूदा बिंदु, भविष्य के किसी बिंदु से जरूर जुड़ेगा, तो यह आत्मविश्वास मिलता है कि आप दिल की सुने


जिंदगी कई बार आपको बहुत तेज झटका देती है तब विश्वास ना खोएं। आपको पता करना होगा कि आप क्या करना चाहते हैं। आपका काम आपकी जिंदगी का बड़ा हिस्सा है। अच्छा काम करना ही आपको संतोष देगा और अच्छा काम करने का एक ही तरीका है कि आप वही काम करें जो आपको पसंद है। अगर वह काम नहीं मिला है तो तलाश जारी रखें, समझौता ना करें एक बार जब यह मिल जाएगा तो किसी रिश्ते की तरह आपका काम भी साल दर साल बेहतर होता चला जाएगा।



आज जैसी स्थिति है वैसी हमेशा नहीं रहेगी आप युवा है तो बूढ़े भी होंगे हमारे पास समय बहुत कम है, उसे किसी और की जिंदगी जीने में बर्बाद ना करें। आपका काम किसी और की सोच का नतीजा नहीं होना चाहिए। दूसरों के मतों के स्वर में अपनी आवाज को दबने ना दें। अपने अंदर साहस बनाए रखें वह करने का साहस जो आप करना चाहते हैं।


➡ सुंदर पिचाई की इंस्पिरेशनल स्पीच







Post a Comment

0 Comments