ब्रूसली कैसे अपने discipline में रहते थे | Bruce lee self discipline in hindi

ब्रूसली कैसे अपने discipline में रहते थे | Bruce lee self discipline in hindi


Bruce lee self discipline in hindi

ब्रूसली ने अपने जीवन में काफी स्ट्रगल किया है ब्रूसली को अपने ऊपर काफी भरोसा था जैसे कि वह पहले से ही कोई स्टार हो और यह बात सच थी ब्रूसली हमेशा अपने ऊपर विश्वास करते थे लेकिन यह विश्वास ब्रूसली में आया कहां से ब्रूसली खुद कहते हैं कि faith in ourself is a state of mind that can be condition through self discipline.


ब्रूसली सच में बहुत ज्यादा self-discipline थे अपने व्यस्ततम शेड्यूल में से वह हर दिन अपने पढ़ने लिखने और ट्रेनिंग के लिए समय निकाल ही लेते थे साथ में उन्होंने अपने जीवन की कई कठिनाइयों को self-discipline के सहारे हराया


तो अब सवाल यह है कि ब्रूस ली के self-discipline का राज क्या था?


ब्रूसली मन और शरीर को एक मानते थे वह मानते थे कि मन और शरीर लगातार एक दूसरे को शक्ति देते हैं वैसे ही ब्रूसली विचारों की क्लेरिटी और जीवन की सफलता को एक मानते थे


Clarity of thoughts = success in everyday life


आपके Discipline और Mastery आपके विचारों की स्पष्टता(clarity) से शुरू होते हैं ब्रूसली हमेशा अपने पास दो बाय 3 इंच की एक नोटबुक लेकर चलते थे। जिसमें वह हर दिन की प्रैक्टिस और वर्कआउट रूटीन के साथ-साथ फिलोसॉफिकल विचार और आईडीया भी नोट करते थे। इस नोटबुक में वह अपने विचार self-discipline और अपने Affirmation लिखते थे और जो विचार उन्हें अच्छे लगते हैं उन्हें वह refine करते रहते थे, फिर आखिर में वह अपने फाइनल Affirmation और विचारों को दूसरी नोटबुक में लिखते हैं और उन Affirmation के नीचे लीगल कांट्रेक्ट की तरह साइन करते थे। उनके साइन करने का मतलब था कि ब्रूस ली पूरे कन्वेंशन और इमानदारी के साथ इन विचारों को अपने मार्शल आर्ट प्रैक्टिस में उतारते रहते, जो उनकी प्रैक्टिस में आता वह अपने आप ही उनके व्यक्तित्व और जीवन में भी छाप छोड़ता इसीलिए ब्रूस ली के लिए मार्शल आर्ट्स लड़ाई, या एक्सरसाइज से भी बहुत ज्यादा जरूरी था जिसका पता warner brothers studio को बाद में चला।


ब्रूसली यह विचार और Affirmation हमेशा अपने साथ रखते थे और बार-बार इनके बारे में सोचते और लिखते रहते थे यह Affirmation उनकी सेल्फ डिसीप्लिन और सेल्फ मास्टरी का आधार बने।

सबसे पहले Affirmation को ब्रूसली टाइटल देते हैं will power


1. Will Power


वह कहते हैं कि मैं जानता हूं कि power of will यानी इच्छा मन की सबसे ताकतवर शक्ति है मैं हर दिन इस शक्ति के प्रति सचेत रहकर इसका उपयोग करता हूँ। यानी मैं जो भी करता हूं अपनी इच्छा से करता हूं मैं ऐसी आदतें बनाऊंगा जिससे मैं हर दिन अपनी इच्छा शक्ति का उपयोग कर सकूं।


ब्रूस ली के लिए विलपॉवर कोई मेंटल कॉन्सेप्ट या मन में चल रही कोई आवाज नहीं थी जो उन्हें एक्शन लेने के लिए मजबूर करें ब्रूस ली मानते थे कि will power is the mastery of energy विल पावर मतलब अपने अंदर जीवन शक्ति को छूना है जिससे वह अपने हर काम और हरकत में उस शक्ति से जुड़े रहे इसीलिए वह अपने Affirmation के आखिरी में कहते हैं कि मैं हर दिन और दिन में एक बार कुछ ना कुछ ऐसा जरूर करूंगा जिससे मैं उस शक्ति से जुड़ पाऊं।


2. Subconscious mind


अगले Affirmation में ब्रूसली कहते हैं कि मैं मानता हूं कि सबकॉन्शियस माइंड विल पावर को प्रभावित करता है वह कहते हैं कि मैं हर दिन सावधानी पूर्वक अपने लक्ष्य की एकदम साफ तस्वीर हमेशा अपने सबकॉन्शियस माइंड के सामने लाऊंगा और ऐसा में जीवन के छोटे बड़े लक्ष्य के लिए करूंगा और इन तस्वीरों को मैं हर दिन बार-बार दोहराकर सबकॉन्शियस माइंड के सामने बनाएं रखूंगा।


3. Imagination


अगले Affirmation में ब्रूसली कहते हैं कि मैं हर दिन अच्छे आईडियाज और विचारों की कीमत को समझते हुए हर दिन इमैजिनेशन का उपयोग करूंगा और अच्छे आईडियाज और प्लांस को सफल बनाने का काम करूंगा।


4. Memory


फिर अगले Affirmation में ब्रूसली कहते हैं कि अच्छी मेमोरी की कीमत को समझते हुए मैं अपनी मेमोरी को अलर्ट रखूंगा मैं काम के विचारों को अपने दिमाग में ऑर्गेनाइज करूंगा और दूसरी नॉलेज और विचारों से जोड़ता रहूंगा अच्छे विचारों को बार-बार दोहराऊंगा जिससे वह स्पष्ट रूप से मेरी मेमोरी में छप जाए।


ब्रूसली कहते हैं कि सालों से मेरे अंदर दिमाग में एक स्पष्ट पिक्चर थी कि मैं हॉलीवुड में लीड एक्टर बनना चाहता हूं ब्रूसली कहते हैं कि जैसे आप आदतन अपने बारे में सोचते हो आप तो वैसे ही बनते जा रहे हो। आपको हर समय अपने नेगेटिव विचारों के प्रति सचेत रहने का अभ्यास करना है। दोस्तों ना ही हमें इनसे लड़ना है ना दबाना है ना ही इनसे डरना है बस सचेत होकर उनको देखना है और खुद को याद दिलाना है कि इन से परेशान होने वाला मैं नहीं हूं।


5. Emotions


अगले Affirmation में ब्रूसली कहते हैं कि मैं जानता हूं कि मेरे अंदर दोनों इमोशंस है मैं ऐसी आदतें बनाऊंगा जिससे मैं पॉजिटिव इमोशंस को बड़ा सकूं और नेगेटिव इमोशंस को किसी काम के एक्शन में बदल सकूं।


मैं जानता हूं की इच्छा और उद्देश्य को भी सही दिशा देना जरूरी है मैं अपनी इच्छाओं को बुद्धि और तर्क से तोडूंगा और अंतरात्मा की आवाज सुनूंगा जिससे मैं सही और गलत का फैसला कर पाऊंगा और जो सही होगा उससे मैं कभी भी पीछे नहीं हटूंगा।


हांगकांग में एक पिक्चर देने के बाद ब्रूसली को हॉलीवुड में एक लीड एक्टर का रोल मिला ब्रूस ली ने खुद एंटर द ड्रैगन की स्क्रिप्ट लिखी जिस पर वॉर्नर ब्रदर्स स्टूडियो ने फिल्म बनाने का निश्चय किया। लेकिन फिल्म के शुरू होने से पहले वॉर्नर ब्रदर्स ने सारी फिलॉसफी हटा दी एंटर द ड्रैगन को बुद्धिहीन एक्शन फिल्म बना दिया ब्रूसली असहमति जताते हुए सेट पर नहीं गए ब्रूस ली बहुत विश्वास करते थे कि कुंगफू या दूसरे मार्शल आर्ट के पीछे गहरा संदेश है। ब्रूसली को अंदाजा था कि हो सकता है हॉलीवुड में अपनी स्क्रिप्ट पर काम करने का मौका उन्हें दोबारा ना मिले लेकिन वह अपने सिद्धांतों पर डटे रहे 2 हफ्ते बाद वॉर्नर ब्रदर्स को ब्रूस ली की बातें माननी पड़ी


ब्रूसली कहते हैं कि बचपन से ही मेरे अंदर Expand करने की तीव्र इच्छा थी ब्रूसली अपनी किताब में कहते हैं कि जो इंसान अपने अंदर की इच्छा शक्ति को पहचान लेता है उसका एक लक्ष्य होता है कि वह अपने अंदर खोज कर सके।


दोस्तों आप अपने अंदर self-discipline जगाने के लिए Affirmation का प्रयोग कर सकते हैं या इन से प्रेरणा लेकर अपने आप Affirmation खुद बना सकते हैं।


➡ क्रिस्टियानो रोनाल्डो work ethic हिंदी


➡ अर्नाल्ड श्वाजनेगर Work ethic इन हिंदी


➡ लियोनेल मेसी work ethic हिंदी

Post a Comment

0 Comments