दंडपाणि के अनमोल विचार | Dandapani Quotes In Hindi

दंडपाणि के अनमोल विचार | Dandapani Quotes In Hindi


दंडपाणि के अनमोल विचार | Dandapani Quotes In Hindi

दंडपाणि के अनमोल वचन | Dandapani Quotes In Hindi


1.) एक बार जब आप अपने मन को नियंत्रित कर लेते हैं, तो आप जीवन में कुछ भी हासिल कर सकते हैं।


- दंडपाणि


2.) हमें अपने मन, शरीर और भावनाओं को साधन के रूप में देखना होगा। हम उनके मालिक हैं, वे हमारे नहीं।


- दंडपाणि


3.) काम पूरा करने के लिए कड़ी मेहनत करो!


- दंडपाणि


4.) मेरे पास किसी तरह का बहाना नहीं है? बिलकुल भी नहीं।


- दंडपाणि


5.) अगर आप कभी कोशिश ही नहीं करोगे तो आपको कभी पता नहीं चलेगा।


- दंडपाणि


6.) खुशी का पीछा मत करो; वह जीवनशैली अपनाओ जो खुशी देती है!


- दंडपाणि


7.) खुद को एक अलग और बेहतर तरीके से जीवन जीने के लिए चुनौती दे, अगर अभी नहीं तो फिर कब?


- दंडपाणि


8.) आध्यात्मिक साधन बेकार है जब तक आप इनका अभ्यास नहीं करते है।


- दंडपाणि


9.) अतीत को भुलाया, बदला या मिटाया नहीं जा सकता; इसे केवल स्वीकार किया जा सकता है।


- दंडपाणि


10.) कल आमतौर पर कभी नहीं आता है, इसे अभी करो।


- दंडपाणि


11.) किसी आदत को तोड़ने के लिए जबरदस्त साहस, इच्छाशक्ति, और आत्म-दया का सहारा लेना होगा।


- दंडपाणि


12.) अगर आप कभी कोशिश ही नहीं करोगे तो आपको कभी पता नहीं चलेगा।


- दंडपाणि


13.) जिस तरह आप पैसे का इस्तेमाल करते हैं उसी तरह अपनी ऊर्जा का भी इस्तेमाल करें। यह सीमित हैं और इसे बुद्धिमानी से निवेश करने की आवश्यकता है।


- दंडपाणि


14.) जब आप अपनी सृजन की शक्तियों में विश्वास नही करते हैं, तब आपको डर लगता हैं।


- दंडपाणि


15.) प्रतिदिन अपने आप से संकल्प करें कि आप इसे कर सकते हैं और जब तक यह पूरा नहीं हो जाता, रुको मत।


- दंडपाणि


16.) हम जैसे अभी हैं उससे हमेशा बेहतर हो सकते हैं। इसलिए चिंता मत करो।


- दंडपाणि


17.) मेरी इच्छा मेरे मन से ज्यादा मजबूत है।


- दंडपाणि


18.) आपको एकमात्र व्यक्ति, स्वयं बनना होगा।


- दंडपाणि


19.) भावनाएँ शक्तिशाली साधन हैं। नियंत्रित और निर्देशित भावनाएँ आश्चर्यजनक चमत्कार कर सकती हैं। जबकि अनियंत्रित भावनाएँ आपके जीवन पर कहर बरपा सकती हैं।


- दंडपाणि


20.) यह आप पर निर्भर करता है कि आप अपने दिमाग को स्वर्ग बनाते हो या नर्क।


- दंडपाणि

Post a Comment

0 Comments