आलोचना पर 30+ अनमोल विचार | Criticism Quotes In Hindi

आलोचना पर 30+ अनमोल विचार | Criticism Quotes In Hindi


आलोचना पर 30+ अनमोल विचार | Criticism Quotes In Hindi

आलोचना पर 30+ अनमोल विचार | Criticism Quotes In Hindi


1.) आलोचना करने का आनंद हमसे कुछ बहुत अच्छी चीजों से प्रभावित होने का आनंद छीन लेता है।


- जीन डे ला ब्रुएरे


2.) आलोचना स्वीकार्य नहीं हो सकती है, लेकिन यह आवश्यक है। यह मानव शरीर में दर्द के समान कार्य को पूरा करता है। यह चीजों की अस्वस्थ स्थिति की ओर ध्यान आकर्षित करता है।


- विंस्टन चर्चिल


3.) हम में से अधिकांश के साथ समस्या यह है कि हम आलोचना से बचने के बजाय प्रशंसा से बर्बाद हो जाते हैं।


- नॉर्मन विंसेंट पील


4.) बच्चों को आलोचकों के बजाय मॉडल की जरूरत होती है।


- जोसेफ जौबर्टा


5.) आप प्रशंसा या आलोचना को अपने पास नहीं आने दे सकते। किसी एक में फंसना कमजोरी है।


- जॉन वुडन


6.) इससे पहले कि आप जाएं और युवा पीढ़ी की आलोचना करें, बस यह याद रखें कि उन्हें किसने पाला।


- अज्ञात


7.) दूसरों में ताकत तलाशना कहीं अधिक मूल्यवान है। आप उनकी खामियों की आलोचना करने से कुछ हासिल नहीं कर सकते।


- दैसाकु इकेदा


8.) किसी को अन्य लोगों की इस आधार पर आलोचना नहीं करनी चाहिए कि वह स्वयं सीधा खड़ा नहीं हो सकता है।


- मार्क ट्वेन


9.) मुझे कोई अधिकार नहीं है, मैं जो कुछ भी करता हूं या कहता हूं, किसी इंसान को उसकी नजर में नीचा दिखाने का। मायने यह नहीं रखता कि मैं उसके बारे में क्या सोचता हूँ; वह अपने बारे में यही सोचता है। मनुष्य के स्वाभिमान को ठेस पहुँचाना पाप है।


- ओंत्वान डे सेंट - एक्सुपरी


10.) उनकी आलोचना मत करो; वे वही हैं जो हम समान परिस्थितियों में होंगे।


- अब्राहम लिंकन


11.) कोई भी मूर्ख आलोचना, निंदा और शिकायत कर सकता है लेकिन समझने और क्षमा करने के लिए चरित्र और आत्म-संयम की आवश्यकता होती है।


- डेल कार्नेगी


12.) आप किसके साथ समय बिताते हैं? आलोचक या प्रोत्साहनकर्ता? अपने आप को उन लोगों के साथ घेरें जो आप पर विश्वास करते हैं। आपका जीवन किसी भी चीज़ से कम के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।


- स्टीव गुडियर


13.) आलोचना, बारिश की तरह, इतनी कोमल होनी चाहिए कि किसी व्यक्ति की जड़ों को नष्ट किए बिना उसके विकास को पोषण दे सके।


- फ्रैंक ए क्लार्क


14.) कोई भी मूर्ख आलोचना, निंदा और शिकायत कर सकता है और ज्यादातर मूर्ख करते हैं।


- बेंजामिन फ्रैंकलिन


15.) वही करें जो आपको अपने दिल में सही लगे - क्योंकि वैसे भी आपकी आलोचना की जाएगी। यदि आप ऐसा करते हैं तो आप शापित होंगे और यदि आप ऐसा नहीं करते हैं तो शापित हो जाएंगे।


- एलेनोर रोसवैल्ट


16.) आलोचना एक ऐसी चीज है जिससे हम कुछ न कहकर, कुछ न करके और कुछ न होने से आसानी से बच सकते हैं।


- अरस्तू


17.) आलोचना लोगों की अस्वीकृति है, दोष होने के लिए नहीं, बल्कि अपने से अलग दोष होने के कारण।


- अज्ञात


18.) जो तुम नहीं समझते उसकी आलोचना मत करो बेटा। तुम उस आदमी की जगह कभी नहीं चले।


- एल्विस प्रेस्ली


19.) उसे आलोचना करने का अधिकार है, जिसके पास मदद करने का दिल है।


- अब्राहम लिंकन


20.) मेरी चापलूसी करो, और मैं तुम पर विश्वास नहीं कर सकता। मेरी आलोचना करेंगे तो मैं शायद आपको पसंद न करुं। मुझे अनदेखा करो, मैं आपको क्षमा नहीं कर सकता। मुझे प्रोत्साहित करो, और मैं तुम्हें नहीं भूलूंगा। मुझे प्यार करो और मैं तुमसे प्यार करने के लिए मजबूर हो सकता हूं।


- विलियम आर्थर वार्ड


21.)लोग अपने जीवनसाथी की उस क्षेत्र में सबसे अधिक आलोचना करते हैं, जहां उन्हें स्वयं सबसे गहरी भावनात्मक आवश्यकता होती है।


- गैरी चैपमैन


22.) बुरा वक्त है बदलने में समय लगेगा खुद पर भरोसा रख, आने वाला वक्त तेरी ज़िंदगी बदल देगा.!!


23.) आलोचना का उसी तरह लो जैसे आप प्रशंसा को लेते हो.!!


24.) किसी पर उंगली उठाने से पहले याद रखो की बाकी उंगलियां तुम्हारी तरफ उठ रहीं हैं.!!


25.) जो बुरा बोलता है उसे बोलने दो, सुनने की आदत डालो क्योंकि यह दुनियाँ भरी पड़ी है कहने वालों से, बस हिम्मत करो, सुनने की हिम्मत यदि सुधार कर सकते हो तो करो वरना जाने दो.!!


26.) बोलने से पहले तोलना सीखो, क्योंकि बोले हुए शब्द माफ़ किये जा सकते हैं पर भुलाये नहीं जा सकते हैं। इसलिए बोलने से पहले सोचो बोलने के बाद सोचने का कोई फायदा नहीं.!!


27.) कभी भी किसी की मजबूरी पर मत हंसो क्योंकि कोई भी मज़बूरी खरीद कर नहीं लाता। हमेशा डर कर रहो वक्त की मार से क्योंकि बुरा वक्त पूछ कर नहीं आता.!!


28.) एक समझदार व्यक्ति दूसरों को देखकर उसकी विशेषताओं से सीखता है। उसकी तुलना या उससे ईर्ष्या नहीं करता.!!


29.) दूसरों पर दोष निकालना बहुत आसान है दूसरों पर ऊँगली उठाने से पहले खुद की कमज़ोरी को देखो.!!


30.) आलोचना हमेशा बुरी नहीं है, यह तो ज़िन्दगी के लिए साबुन का काम करती है.!!


31.) आपके सही होने का मतलब यह नहीं है की सामने वाला गलत हो.!!










Post a Comment

0 Comments