रिचर्ड ब्रैनसन की सफलता की कहानी | Richard Branson Success Story in hindi

रिचर्ड ब्रैनसन की सफलता की कहानी | Richard Branson Success Story in hindi


रिचर्ड ब्रैनसन की सफलता की कहानी | Richard Branson Success Story in hindi


डिसलेक्सिया रोग के शिकार होने की वजह से जो लड़का हर बार क्लास में फेल हो जाता था और इस वजह से उसे 16 साल की उम्र में ही स्कूल छोड़ना पड़ा था वह आज 400 से भी ज्यादा कंपनी के मालिक बन चुके हैं और उसकी नेटवर्क आज 35500 करोड रुपए हैं यह कहानी है वर्जिन ग्रुप के फाउंडर सर रिचर्ड ब्रैनसन की है।


रिचर्ड ब्रैनसन परिवार (Family)


18 जुलाई 1950 को रिचर्ड ब्रैनसन का जन्म इंग्लैंड की राजधानी लंदन में पैदा हुए थे। उनके पिता बेरिस्टर थे उनकी माता एक एयर होस्टेस थी। उनकी दो छोटी बहने भी हैं ऐसा माना जाता है कि उनके दादा हाईकोर्ट के जज भी थे रिचर्ड की पत्नी का नाम टामोसी है और उनके 2 बच्चे भी हैं।


रिचर्ड ब्रैनसन प्रारंभिक जीवन शिक्षा (Early Life, education)


रिजल्ट ब्रैनसन की मम्मी बचपन से ही चाहती थी कि वह अपने बेटे को इस तरह से जीना सिखाएं की जिंदगी में वह हर तरह का चैलेंज का सामना कर सके इसलिए उन्होंने बचपन से रिचर्ड को अलग-अलग चुनौतियां देना शुरू कर दिया जैसे एक बार उन्होंने रिचर्ड को एक सैंडविच बना कर दिया और उनसे कहा कि वह अपने दादा को यह देकर आए जो कि वहां से 50 मील दूर रहते थे और उनसे यह भी कहा कि पीने के पानी का इंतजाम तुम खुद ही करना। अपने दादा जी को खाना देकर अगले दिन रिचर्ड एक चैंपियन की तरह घर लौटे थे।


बीमारी का शिकार होने के कारण रिचर्ड ठीक से अच्छी तरह से पढ़ नहीं पाते थे जिस कारण क्लास के सभी बच्चे उनका मजाक उड़ाया करते थे और वह हमेशा सभी से पीछे रह जाते थे इस वजह से 16 साल की उम्र में ही मजबूर होकर उन्हें अपनी पढ़ाई छोड़नी पड़ी थी स्कूल के लास्ट दिन में हेड मास्टर ने उनसे कहा था या तो तुम जेल जाओगे या फिर करोड़पति बनोगे और बड़े होने के बाद उन्होंने यह दोनों ही किया।


रिचर्ड ब्रैनसन का शुरुआती बिजनेस


सिर्फ 16 साल की उम्र में क्रिसमस ट्री और एक तरह का पक्षी बनाने के व्यवसाय में फेल होकर उन्होंने 1966 में स्टूडेंट नाम की एक मैगजीन लॉन्च की और इसी के जरिए उन्होंने अपना पहला सक्सेसफुल बिजनेस शुरू किया था उनकी यह मैगज़ीन इतनी प्रसिद्ध हुई थी कि इसे लॉन्च करने के 3 साल में ही वह 40 लाख रुपए के मालिक बन चुके थे मैगजीन के बिजनेस में सफल होने के बाद में उन्होंने रिकॉर्डिंग के बिजनेस में कदम बढ़ाये।


वर्जिन कंपनी की शुरुआत


रिकॉर्डिंग बिजनेस में बहुत ज्यादा हानि होने के कारण वह सोचते हैं कि इस हानि की भरपाई को टैक्स चोरी करके बचाया जा सकता है। लेकिन एक दिन उनकी इस टैक्स चोरी का खुलासा हो जाता है और उन्हें जेल भेज दिया जाता है। इसके बाद उनके मम्मी पापा अपना घर गिरवी रख कर और ₹700000 जुर्माना देकर उन्हें जेल से छुड़ाकर ले आते हैं।


इस घटना के बाद वह अपने मन में तय कर लेते हैं कि अब कभी भी कोई गलत तरीका नहीं अपनाएंगे इसके बाद ईमानदारी से वह अपने रिकॉर्डिंग के बिजनेस को आगे ले जाने की कोशिश करते हैं इसके बाद वह कई सारे छोटे छोटे म्यूजिकल बैंड जिन्हें कोई कंपनी अपना म्यूजिक रिकॉर्ड करने का मौका नहीं दे रही थी उन्हें रिचर्ड ने अपने रिकॉर्डिंग  मैं हाथ आजमाने के लिए मौका दिया और फिर इन्हीं म्यूजिकल बैंड के म्यूजिक इंग्लैंड में बहुत ज्यादा पॉपुलर होने लगे। 


उनकी पहली एल्बम 1973 में रिलीज हुई जिसका नाम ट्यूबलर बेल्स था जो वर्जिन रिकॉर्ड की पहली रिलीज के रूप में मशहूर हुई। बाद में बहुत सारे कलाकारों ने उस स्टूडियो में म्यूजिक वीडियो तैयार किया और धीरे-धीरे वह म्यूजिक स्टूडियो मशहूर हो गया, बाद में वर्जिन रिकॉर्ड स्टूडियो ने क्लचर क्लब को भी संगीत की दुनिया में लाकर खड़ा किया और मशहूर कर दिया। साल 1979 में सिर्फ 29 साल की उम्र में ही सर रिचर्ड ब्रैनसन ₹45 करोड़ के मालिक बन चुके थे। 


वर्जिन एयरलाइन कंपनी


एक बार रिचर्ड को कहीं काम से बाहर जाना था लेकिन पता चला कि उस दिन सारी फ्लाइट कैंसिल कर दी गई हैं फिर उन्होंने वहां से चुपचाप घर लौट आने के बदले प्राइवेट प्लेन हायर करने का सोचा लेकिन उस वक्त उनके पास इतना पैसा नहीं था इसीलिए उन्होंने सबसे पहले प्लेन का प्राइस पता किया और फिर वहां पर जितने भी लोग थे जो वहीं जाना चाहते थे जहां रिचर्ड जाने वाले थे उन सभी लोगों को रिचर्ड ने $39 का टिकट बेचकर उस प्लेन की सारी सीटें बुक करके स्थान तक पहुंच गए थे और यहीं से शुरुआत हुई थी वर्जिन एयरलाइंस की शुरुआत और इसी एयरलाइन के बिजनेस को कंटिन्यू करने के लिए उन्होंने सन 1992 को अपने सबसे फेवरेट रिकॉर्डिंग के बिजनेस को 4000 करोड़ रुपए में बेच दिया उसे बेचते टाइम वह दिए थे क्योंकि रिकॉर्डिंग का बिजनेस सफल होने के बाद ही उन्हें एयरलाइन का एंपायर शुरू किया था।


V2 रिकॉर्ड कंपनी व अन्य क्षेत्रों में रुझान


इसे शुरू करने के 4 साल के अंदर ही परिस्थितियों को नियंत्रण में लाकर V2 रिकॉर्ड के नाम से एक नई रिकॉर्डिंग कंपनी शुरू कर दी। धीरे-धीरे करके वह टेलीकम्युनिकेशन रेल ट्रैवल एंड टूरिज्म जैसे कई सारे बिजनेस शुरू करने लगे उनका तरीका ऐसा था कि पहले वह कोई बिजनेस शुरू करते थे फिर उसे सक्सेसफुल बनाकर दूसरा बिजनेस शुरू कर देते थे और ऐसे ही करते करते हो आज वह 69 साल की उम्र में 400 कंपनी के मालिक बन चुके हैं जिस में सबसे ज्यादा फेमस है उनकी स्पेस टूरिज्म कंपनी है जिसका उन्होंने नाम दिया है वर्जिन गैलेक्टिक।


वर्जिन गैलेक्टिक कंपनी


वर्जिन गैलेक्टिक कंपनी जो एक अंतरिक्ष संबंधित कंपनी थी। उनकी कंपनी ने कई सारे स्पेसशिप का निर्माण भी किया जिससे उन्होंने अपना नाम पूरी दुनिया में मशहूर कर लिया। वह चाहते थे कि वे अपने दोनों बच्चों के साथ अंतरिक्ष यात्रा पर जरूर जाएं। उन्होंने अपनी सोच को पूरा करने में लगभग 20 साल से ज्यादा का समय लगा दिया और आखिरकार साल 2021 को उन्होंने अंतरिक्ष यात्रा करके एक नया रिकॉर्ड कायम कर दिया। यह कंपनी लोगों को स्पेस में घुमाने ले जाने का काम करती है इसका प्राइस 1.5 करोड़ रुपए है रिचर्ड  ब्रैनसन बिजनेसमैन होने के साथ साथी एडवेंचर लवर भी हैं


ओर भी कई अन्य कंपनियां


● 2006 में ही उन्होंने वर्जिन हेल्थ बैंक का भी निर्माण किया जो ब्लड डोनेट और लोगों तक पहुंचाने का काम करता है।


● इन सबके अलावा ब्रेनसन ने कुछ अन्य कंपनियों का भी निर्माण किया, जैसे वर्जिन मोबाइल कंपनी, यूके केबल टीवी ब्रॉडबैंड और टेलीफोन कंपनी एनटीएल टेललीवेस्ट आदि। वर्जिन मीडिया ने वर्जिन की अन्य कंपनियों का धूमधाम से प्रचार और प्रसार भी किया।


● 2006 में ब्रानसन ने वर्जिन कॉमिक्स तथा वर्जिन एनिमेशन भी तैयार किया जो एक एंटरटेनमेंट कंपनी के रूप में जानी गई, जिसमें नए-नए कहानी और पात्रों को बनाने पर काम किया जाता है।






Post a Comment

0 Comments