आपके यह 9 belief आपको जीवन में आगे नहीं बढ़ने देते | How to remove bad belief hindi

आपके यह 9 belief आपको जीवन में आगे नहीं बढ़ने देते | How to remove bad belief hindi


आपके यह 9 belief आपको जीवन आगे नहीं बढ़ने देते | How to remove bad belief hindi

आपके Belief यह डिसाइड करते हैं कि आप दुनिया को किस नजर से देखते हो और उन्हें देखकर आप क्या Conclusion निकालते हो आप अपने belief के साथ या तो आप सफलता तक पहुंचने का एक रास्ता बना सकते हो और चुनौतियों का डटकर सामना कर सकते हो या फिर आप अपने बनाये हुए belief से बाहर निकल कर दुनिया को वैसे देख सकते हो तो जैसी वह अभी है। जो इंसान अपने belief के बारे में क्लियर हो जाता है उसके मन में एक अलग ही लेवल की clarity आ जाती है जबकि नेगेटिव belief रखने वाले लोग जाने अनजाने में ही खुद के लिए अड़चनें पैदा करने लगते हैं इस पोस्ट में हम ऐसे ही belief के बारे में जानेंगे और देखेंगे कि उन्हें आप कैसे हटा सकते हो।


1.) मुझे अपना काम शुरू करने में बहुत देर हो चुकी है या मेरे पास तो बहुत समय है अभी।


यह belief उन लोगों के मन में बैठा होता है जो उनकी सफलता के रास्ते में आने वाली अड़चनों से डरते हैं। वह यह सोचते हैं कि अभी सपनों का पीछा करने के लिए हमारी उम्र बहुत है या फिर हमारे सपनों को सच करने का समय अब निकल चुका है आप अपनी कायरता और हिचकिचाहट को अपनी limitation के पीछे छुपा रहे होते हो लेकिन दुनिया ना तो आपके डर की परवाह करती है और ना ही आपके बहानों की।


अगर आप अभी खुद का बिजनेस चालू करना चाहते हो तो लीगल रिक्वायरमेंट को पूरी करने के लिए अपने पेरेंट्स की हेल्प लो या फिर अपने से किसी बड़े इंसान की हेल्प लो जो आपकी इस काम में मदद कर सके। अगर आपकी उम्र 30 40 या 50 भी है तब भी आप अपना काम शुरू कर सकते हो लेखक जे.के. रोलिंग ने अपनी सीरीज हैरी पॉटर 32 वर्ष की उम्र में लिखी थी, KFC के फाउंडर कर्नल सैंडर्स ने भी अपना ब्रांड 65 वर्ष की उम्र में बनाया था, इस्कॉन के फाउंडर प्रभुपाद ने भी अपना मूमेंट 69 वर्ष की उम्र में बनाए थे यहां तक कि जॉर्जियो अरमानी ने भी अपनी कंपनी तब शुरू करी थी जब 41 साल के थे।


इतिहास उन लोगों की कहानियों से भरा पड़ा है जिन्होंने अपनी जिंदगी में कोई काम बहुत जल्दी या फिर बहुत देर से शुरू किया था और उसके बाद भी वह सफल हुए। इसमें आपका यह belief कि आप अपनी उम्र की वजह से कुछ नहीं कर सकते यह बस आपके मन में बैठा एक ख्याल है ना कि रियलिटी।


2.) मैं अपने काम में ज्यादा अच्छा नहीं हूँ


यह belief एक इंसान के बचपन से शुरू होता है जो उसे बड़ा होने पर भी ऐसा ही महसूस कराता है कि वह जो भी काम करेगा खराब ही होगा। उसकी सारी उपलब्धियां बहुत छोटी है और एक वह एक अच्छा इंसान नहीं है साइकोलॉजी में इसको इंपोस्टर सिंड्रोम बोला जाता है इसका मतलब यह कि आपने अपनी सफलता को अपनी मेहनत और टैलेंट से हासिल नहीं किया आप कुछ भी अच्छा नहीं कर सकते। लेकिन आप इस belief को हटा सकते हो मतलब यह सोचो कि आपका good enough ना feel करना किसी actual fact को नहीं बल्कि trauma को दर्शाता है।


3.) मैं एक unique इंसान नहीं हूँ।


यह महसूस करना कि मेरे पास दुनिया में कुछ नया या unique करने के लिए नहीं है और दूसरे लोग मुझसे से बेहतर है यह feeling दूसरों से लगातार खुद को कम्पेयर करने से आती है और उस कंपेयर से ही आप अपने आप को कोसते रहते हो लेकिन यह तरीका खुद की काबिलियत को जानने का एकदम गलत तरीका है क्योंकि आपको हमेशा ही अपने से बेहतर करने वाले अमीर और टैलेंटेड लोग देखेंगे ही इसका मतलब यह नहीं है कि आपमें कुछ भी यूनिक नहीं है क्योंकि दुनिया में आपका goal उनको हराना या उनसे बेहतर बनना नहीं बल्कि खुद का Best version बनना होना चाहिए।


4.) जीवन बहुत कठिन है।


इस बात में कुछ हद तक सच्चाई भी है कि लाइफ मुश्किलों और मुसीबतों से भरी हुई है लेकिन एक बात यह भी सच है कि कई बार लाइफ बहुत मजेदार और खुशहाल भी बन जाती है हर इंसान की लाइफ़ खुशी और गम के बीच में होती है और बैलेंस उन लोगों को नहीं दिखता जिन्होंने बचपन से ही अपना belief नकारात्मक बना कर रखा है।


जैसे यह सोचना कि जिंदगी जीना ही टॉर्चर है और आपको मरते दम तक दुख ही झेलना होगा इस belief को हटाने के लिए आपको यह नोटिस करना होगा कि वह आप ही हो जो आपकी लाइफ को आप नकारात्मक नजरिये से देख रहे है लेकिन आप अपनी फीलिंग को बदल सकते हो बाहरी चीजों पर ज्यादा ध्यान ना दे कर।


5.) अपने से बेहतर और अमीर लोगों से जलन की भावना रखना


यह बात एक साइकोलॉजिकल ट्रिक से समझ सकते है। याने कि लोग उस चीजों से नफरत करने लगते हैं जिन्हें पाने की उम्मीद वह खो देते हैं या फिर जो चीजें वह कर नहीं पाते। इस तरह से चीजों से नफरत करने से आप खुद में यह यकीन पक्का कर लेते हो कि आप कभी उनकी तरह बेहतर नही हो सकते।


उन लोगों को याद करो जो हद से ज्यादा अमीर लोग और सेलिब्रिटीज से नफरत करते हैं एक अनजान इंसान से इतनी नफरत जलन से ही आ रही होती है और यह जलन लोग अपनी नफरत के नीचे छुपा लेते हैं। इसलिए अगर आप भी यह उम्मीद रखते हो कि आमिर और सेलिब्रिटी लोगों ने धोखाधड़ी से पैसा कमाया है तो यह चीज उन्हें नहीं बल्कि आपको ही आगे बढ़ने से रोकेगी। इसके बजाय आप भी थोड़े एजुकेट रहो हंबल बनो और अमीर लोगों को देखो और उनसे सीखो की वह लोग यहां तक कैसे पहुंचे।


6.) मेरी फेमिली मेरे काम में मेरा साथ नही देती


यह एक belief से ज्यादा सिर्फ एक बहाना होता है अगर आप अपनी जिंदगी में अपनी मर्जी से कुछ करना चाहोगे तो कोई ना कोई तो आपसे असहमत होकर आपको मना करेगा ही। आप किसी दूसरे पर यह रिस्पांसिबिलिटी नहीं डाल सकते कि वह आपका साथ दे और आपके सपनों को पूरा करे। अगर आपके साथ आपकी फेमिली का सपोर्ट नहीं है तो आपको ही जुगाड़ लगाकर लोगों से कांटेक्ट करके या कुछ साइड इनकम करके अपने सपने की शुरुआत करनी होगी अगर सपने आपके हैं तो उन्हें पूरा करने की जिम्मेदारी भी आपकी ही है।


7.) मेरी किस्मत दूसरों से भी अधिक बुरी है


यह belief होता है Badluck और नेगेटिव सोच का यानी कि जिस इंसान को प्यार में धोखा मिला होता है या फिर उनके पेरेंट्स ने उन्हें अच्छे से appreciate नहीं किया होता तो उनकी सोच ही कुछ ऐसी बन जाती है कि वह खुद को मन ही मन कोसने लगते हैं आपका यह belief आप के साथ तब तक बना होता है जब तक आप खुद को अच्छे से नहीं जान लेते।


8.) मेेेरे पास कभी भी कुछ अच्छा नही होगा।


इस belief के साथ आप गेम को खेलने से पहले ही उसे छोड़ देते हैं आप उपलब्धियों के दरवाजे पर ताला लगा देते हो और सोचते हो कि आपको तो पहले ही पता था कि आप के नसीब में अच्छी चीजें हैं ही नही। यह belief आप की growth के चांसेस को बिल्कुल कम कर देता है लेकिन अच्छी बात यह है कि इस belief को भी बदला जा सकता है अपने perspective और अपने action को बदलने से खुद को यह बोलने की वजह है कि मेरे पास तो कभी अच्छा पैसा होगा ही नहीं यह बोलो कि मुझे अपने अंदर क्या बदलाव लाना पड़ेगा जिससे मैं अच्छा पैसा कमा सकूं।


9.) मेरे पास अपने जुनून को जीने के लिए समय नही है


सभी लोगों के पास अपनी अलग-अलग जिम्मेदारियां होती है और ऐसे में उन चीजों के लिए समय निकाल पाना जिसे आप प्यार करते हो बहुत मुश्किल है ऐसे में अपने passion को आपको एक side hustle बनाना चाहिए कहने का मतलब है दिन के समय में आप स्कूल अपनी पढ़ाई या फिर अपनी जॉब को समय दो और रात को कुछ घण्टे अपने passion को दो ताकि समय के साथ साल जब आपको अपनी side hustle में प्रोग्रेस आता दिखेगा तब आप अपनी प्रायोरिटी को भी बदल पाओगे और अपने beliefs को भी।





Post a Comment

0 Comments