द लास्ट सपर पेंटिंग के बारे में रोचक जानकारी | Fact about the last supper painting in hindi

द लास्ट सपर पेंटिंग के बारे में रोचक जानकारी | Fact about the last supper painting in hindi



द लास्ट सपर पेंटिंग के बारे में रोचक जानकारी | Fact about the last supper painting in hindi


मोनालिसा के बाद दुनिया की सबसे जो ज्यादा फेमस पेंटिंग है वह है "द लास्ट सपर" यह दुनिया की सबसे ज्यादा ऐड मायर की जाने वाली और सबसे ज्यादा स्टडी की जाने वाली पेंटिंग है इसे भी इटली के महान आर्टिस्ट लिओनार्दो दा विंची ने ही बनाया था। द लास्ट सपर या अंतिम भोज पेंटिंग की रचना लिओनार्दो दा विंची ने ही कि थी। इस पोस्ट में आप इस पेंटिंग से जुड़ी कुछ रोचक बातें जानोगे।


● आप इस पेंटिंग को कभी किसी म्यूजियम में नहीं पाओगे इटली के मिलान शहर के एक कान्वेंट में इसका परमानेंट घर है मिलन शहर में santa maria Delle Grazie नाम से एक चर्च और कान्वेंट है द विंची ने वहां के डाइनिंग हॉल की दीवार पर इस पेंटिंग को बनाया था।


● लास्ट सपर का मतलब है अंतिम भोजन इस पेंटिंग में जीसस को रोमनों द्वारा पकड़ लिए जाने से पहले और सूली दिए जाने से पहले उनको उनके 12 शिष्यों के साथ भोजन करते हुए दिखाया गया है।


● यह तो सभी जानते हैं कि इस पेंटिंग में जीसस को आखरी भोजन करते हुए दिखाया गया है लेकिन सही मायने में देखें तो लियोनार्दो द विंची इस पेंटिंग में उस पल को कैद करना चाहते थे जब जीसस भोजन के दौरान अपने शिष्यों को यह बात कहते हैं “तुम में से कोई एक मेरे साथ विश्वासघात करेगा” ओर यह सुनकर उनके शिष्यों को धक्का लगता है सभी अचंभित रह जाते हैं इसी पल को द विंची अपनी पेंटिंग में कैद करना चाहते थे।


● द विंची ने दिखाया है कि जीसस के कहने का एकदम से सभी पर कितना गहरा असर होता है सभी के बीच इमोशंस की लहर दौड़ पड़ती है उन सभी के चेहरों के रिएक्शंस और इमोशंस ने इस द विंची की पेंटिंग को और भी मनोहर बना दिया है।






● बाइबल के अनुसार जब जीसस कहते हैं कि तुम में से कोई एक मेरे साथ विश्वासघात करेगा तो उनमें से उनके एक शिष्य फिलिप पूछते हैं “भगवान क्या वह मैं हूं?” जीसस भविष्यवाणी करते हैं उनका विश्वासघाती उनके साथ ब्रेड को उठाएगा वॉल पेंटिंग में हम यह देख सकते हैं कि जीसस के यह कहने के बाद उनका एक शिष्य जेम्स द ग्रेटर डर से अपने हाथों को पीछे करता है  वहीं दूसरे शिष्य जुडस का ध्यान पीटर और जोहन की बातों से डिस्ट्रैक्ट हो जाता है और वह ब्रेड उठाने के लिए प्लेट की तरफ हाथ बढ़ाता है। और उसी वक्त जीसस भी अपना हाथ ब्रेड को उठाने के लिए बढ़ाते हैं।


● जुडस वह इंसान था जिसने जीसस के साथ विश्वासघात किया था और रोमनो द्वारा जीसस को पकड़वाया था। पेंटिंग में द विंची ने इन दृश्यों को बड़ी खूबसूरती से दिखाया है पेंटिंग में जुडस अकेला एक ऐसा व्यक्ति है जिसे द विंची ने डार्क स्किन के साथ बनाया है और उसके सीधे हाथ में पैसों से भरा पाउच है जो उसे पेमेंट के रूप में दिए गए थे जीसस के साथ विश्वासघात करने के लिए।


● यह कहा जाता है कि जब पेंटिंग में जुडस का चेहरा बनाने का वक्त आया तो द विंची मिलन शहर की जेलों में ऐसे क्रिमिनल को ढूंढने गए जो चेहरे से ही वाकई में किसी दुष्ट जैसा लगता हो और जब उनको कोई ऐसा क्रिमिनल मिला तो उसी के चेहरे पर उन्होंने जुडस का चेहरा बनाया था। जीसस के साथ किए गए विश्वासघात की वजह से आज जोडस का नाम गद्दार बन चुका है।


● जितना आप सोचते हैं यह पेंटिंग उससे काफी बड़ी है इसका साइज 180 inch × 150 inch है और इसने दीवार के दोनों कोनों को आगे तक कवर किया हुआ है।


● द लास्ट सपर के सामने वाली दीवार पर एक दूसरी पेंटिंग बनी हुई है इस पेंटिंग में जीसस को सूली दिए जाने वाली घटना दिखाई गई है इसे इटली के ही एक पेंटर ने बनाया था।


● द लास्ट सपर पेंटिंग इतिहासकारों के बीच काफी विचार का विषय रह चुकी है इसने इतिहासकारों और लेखकों को काफी सोचने पर मजबूर किया है और कई तरह के अनुमान इस पेंटिंग के बारे में लगते रहे हैं क्योंकि द विंची ने पेंटिंग में कई रहस्यमई संदेशों को छुपाया है।


● sabrina sforza एक इटालियन आर्ट एक्सपर्ट है 2010 में उन्होंने इस पेंटिंग में छिपे रहस्यों को समझने की कोशिश की उन्होंने पेंटिंग में कुछ मैथमेटिकल और एस्ट्रोलॉजिकल संकेतों को देखा। उन्होंने बताया कि द विंची ने पेंटिंग में दुनिया के अंत की तारीख के बारे में एक मैसेज छुपाया है उनके अनुसार द विंची ने पेंटिंग में ऐसे संदेश दिए हैं की सन 4006 में दुनिया का अंत होगा।


● ईसाई लोग होली ट्रिनिटी पर विश्वास रखते हैं ट्रिनिटी को हिंदी में त्रिएक कहते हैं।  ट्रिनिटी का मतलब है कि परमेश्वर तीन से मिलकर बना है पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा इसीलिए द विंची ने पेंटिंग में नंबर 3 की और कई बार इशारा किया है। जो ईसाइयों के होली ट्रिनिटी पर विश्वास को दिखाता है जैसे पेंटिंग में शिष्य 3 - 3 के ग्रुप में बैठे हैं जीसस के पीछे तीन खिड़कियां हैं और जीसस के शरीर के शेप को त्रिकोण जैसा बनाया है।


● द विंची ने पेंटिंग में एक शख्स को जो बेहोशी की हालत में दिखाया है यह आदमी है या औरत इस बात पर काफी बहस होती रही है क्योंकि पेंटिंग में बनाए गए सभी लोगों में सिर्फ यही शख्स औरत जैसी दिख रही है। बहुत से इतिहासकारों का यह मानना है कि यह जीसस का शिष्य जोहन है लेकिन बहुत से इतिहासकार यह कहते हैं कि यह marry magdalene  है जो जीसस की एक शिष्य ही थी और जीसस को सूली दिए जाने उनको दफनाने और उनके फिर से जिंदा हो उठने की गवाह भी थी।


● द लास्ट सपर पेंटिंग में एक छोटी सी गलती है गौर से देखने पर पता चलता है कि Eel के साथ ऑरेंज स्लाइस भी रखी है लेकिन जीसस को सूली दिए जाने के कई सालों बाद तक भी मिडिल ईस्ट में संतरे नहीं आए थे। जो चीज जीसस के टाइम में थी ही नहीं वह जीसस भला कैसे खा सकते हैं दरअसल द विंची के टाइम में के Eel के साथ ऑरेंज खाना इटली में एक बेहद कॉमन डिश थी और इसीलिए इस पेंटिंग में भी द विंची ने इसे बना दिया था।


● क्योंकि पेंटिंग 3 एक्सटीरियर वॉल पर बनाई गई थी इसीलिए इस पर नमी का काफी प्रभाव पड़ा और दीवार पेंट को अच्छे से नहीं सोख पाई और जैसे ही 1498 में यह पेंटिंग बनकर तैयार हुई तभी से यह खराब होना शुरू हो गई थी।


● 1796 में फ्रेंच रिवॉल्यूशन सोल्जर द्वारा पेंटिंग को काफी नुकसान पहुंचाया गया सन 1943 में दूसरे विश्व युद्ध के दौरान पड़ोसी देश की बमबारी ने कान्वेंट के डाइनिंग टेबल को काफी नुकसान पहुंचाया इसीलिए इस पेंटिंग को सुरक्षित रखने के लिए एक प्रोटेक्टिव स्ट्रक्चर बनाया गया था।


● जैसा कि आप जानते हैं कि इस पेंटिंग को द विंची ने दीवार पर बनाया था 1692 में इसी दीवार के निचले हिस्से को तोड़कर वहां एक दरवाजा बना दिया गया  बाद में फिर से उसे भरकर वहां दीवार बना दी गई।


● द लास्ट सपर की 3 कॉपीज भी मौजूद हैं जिनके बारे में कहा जाता है कि इन्हें द विंची के स्टूडेंट्स द्वारा ही बनाया गया था। इनमें से एक लंदन की रॉयल आर्ट एकेडमी में रखी है जिसे इटली के पेंटर और लियोनार्दो के स्टूडेंट ने 1520 में बनाया था। जब 1978 और 1998 में लियोनार्दो की पेंटिंग द लास्ट सपर को रिस्टोर किया गया तो यह पेंटिंग ही मेन सोर्स थी। और द विंची की पेंटिंग से जो चीजें गायब हो चुकी थी जो डिटेल्स खो चुकी थी इस पेंटिंग ने उन सभी को जिंदा रखा है।



Post a Comment

0 Comments