नेहा कक्कड़ सक्सेस स्टोरी | Neha kakkar success story in hindi


नेहा कक्कड़ सक्सेस स्टोरी | Neha kakkar success story in hindi

नेहा कक्कड़ की सफलता की कहानी | Neha kakkar success story in hindi


दोस्तों आज हम बात करेंगे भारतीय म्यूजिक इंडस्ट्री की जानी-मानी सिंगर नेहा कक्कड़ के बारे में जो कि अपने फैंस के बीच सेल्फी क्वीन के नाम से भी काफी मशहूर है।


अपनी आवाज से जादू चलाने वाली नेहा कक्कड़ बहुत सारी फिल्मों में सुपरहिट गाने दिए हैं और उनकी लोकप्रियता का अंदाजा आप उनकी फैन फॉलोइंग से खुद-ब-खुद लगा सकते हैं वह इंस्टाग्राम पर सबसे ज्यादा फॉलो की गई इंडियन सिंगर है। आज के समय में इतनी पॉपुलर हो चुकी नेहा कक्कड़ ने अपनी शुरुआत बहुत ही छोटे लेवल से की थी यहां तक कि शुरुआती समय में उनको भजन और आरती गाते हुए भी देखा जा सकता है। तो चलिए जानते हैं नेहा कक्कर की सक्सेस स्टोरी।


नेहा कक्कड़ जन्म और परिवार (Neha kakkar family)


6 जून 1988 को उत्तराखंड के ऋषिकेश में नेहा कक्कड़ का जन्म हुआ उनके पिता का नाम ऋषिकेश कक्कड़ है जो कि एक गैर सरकारी संस्था में काम करते हैं और मां का नाम नीति कक्कड़ है ओर वह ग्रहणी हैं उनकी एक बहन सोनू कक्कड़ और भाई टोनी कक्कड़ है जो कि म्यूजिकल डायरेक्टर हैं।


नेहा कक्कड़ शिक्षा और करियर


बचपन में ही नेहा अपने परिवार के साथ दिल्ली शिफ्ट हो गई और वहां उन्होंने न्यू होली पब्लिक स्कूल से शुरुआती पढ़ाई की। म्यूजिक से प्यार उन्हें बचपन से ही था। और सिर्फ 4 साल की उम्र में उन्होंने भजन और आरती गाना शुरू कर दिया था। आगे चलकर जैसे-जैसे उनकी उम्र बढ़ती गई उनकी आवाज में मिठास भी बढ़ती चली गई और जब वह 11वीं क्लास में थी तब उन्होंने सिंगिंग शो इंडियन आइडल में पार्टिसिपेट किया हालांकि शो जीतने में वह सफल नहीं रही। इंडियन आइडल खत्म होने के बाद से लोग नेहा कक्कड़ को पहचानने लगे हालांकि उनके जीवन में अभी वह सफलता नहीं आई थी जिसकी वह हकदार थी।


समय बीतता गया और नेहा कक्कड़ अपनी गायकी पर काम करती रही और फिर 2008 में उनकी मेहनत तब जाकर लग रंग लाई जब उन्होंने अपनी सोलो एल्बम "नेहा द रॉकस्टार "लांच किया जिसे की मीट ब्रॉस ने कंपोज किया था। और यह एल्बम नेहा के टैलेंट को लोगों तक पहुंचाने में काफी मददगार रहा और उनके गानों ने म्यूजिक डायरेक्टर का भी ध्यान अपनी और आकर्षित किया।


• 2008 में उन्होंने जो जीता वही सुपरस्टार में एक चैलेंजर की तरह पार्टिसिपेट किया और आगे चलकर 2009 में उनको ब्लू मूवी का थीम सॉन्ग गाने का मौका मिला साथ ही उन्होंने ना आना इस देश लाडो इंडियन टीवी शो के लिए टाइटल ट्रैक भी दिया दोस्तों अभी तक नेहा कक्कड़ को मौके तो बहुत सारे मिल रहे थे लेकिन वह उनकी काबिलियत के हिसाब से काफी कम थे हालांकि नेहा पॉजिटिव थिंकिंग के साथ आगे बढ़ती रहीं।

• 2011 में उन्होंने मिस पूजा के साथ कॉकटेल फिल्म का सेकंड हैंड जवानी गाना गाया और इस गाने की पॉपुलेरिटी ने नेहा की आवाज को लोगों के दिलों तक पहुंचा दिया।

• 2012 में उनका गाया हुआ एसआरके एल्बम भी काफी मशहूर हुआ।

• साल 2013 में हनी सिंह के साथ यारियां मूवी में उन्होंने ब्लू है पानी पानी गाना गाया जो कि नेहा कक्कड़ के करियर का टर्निंग प्वाइंट साबित हुआ और फिर यहां से उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा 2013 में आया क्वीन फिल्म का लंदन ठुमकदा गाना भी काफी लोकप्रिय रहा और इस गाने की लोकप्रियता ने एक बार फिर से साबित कर दिया कि नेहा म्यूजिक इंडस्ट्री में आगे भी और धमाल मचाने वाली हैं।

• 2014 में नेहा ने अक्षय की मूवी गब्बर में अंदर आओ राजा गाना गाया और इसके अलावा भी उन्होंने कई सारे गाने गाए हैं।


इनकी स्टोरी से क्या सीख सकते हैं


नेहा कक्कड़ आज जो भी है वह अपनी मेहनत और टैलेंट की दम पर है उन्होंने एक मिडिल क्लास फैमिली से आने वाली लड़की से सेलिब्रिटी तक का सफर तय किया है। एक बार एक शो में नेहा यह बताते हुए इमोशनल हो गई थी कि जब मैं छोटी थी तो मेरी फैमिली के हालात ठीक नहीं थे जिस स्कूल में मेरी बहन सोनू कक्कड़ पढ़ती थी वहां मेरे पापा समोसे बेचा करते थे। दोस्तों इनसे हमें एक बात बहुत अच्छी सीखने को मिलती हैं, जब आपमे कुछ करने का जुनून हो तो आपको आपकी परिस्थितियां भी नही रोक सकती।

Post a Comment

0 Comments