[65+] महात्मा गांधी के शैक्षिक सामाजिक राजनीतिक अनमोल विचार | Mahatma Gandhi quotes in hindi

[65+] महात्मा गांधी के शैक्षिक सामाजिक राजनीतिक अनमोल विचार, वचन | Mahatma Gandhi quotes in hind


महात्मा गांधी के शैक्षिक सामाजिक राजनीतिक अनमोल विचार, वचन | Mahatma Gandhi quotes in hind


महात्मा गांधी के शैक्षिक सामाजिक राजनीतिक अनमोल विचार, वचन | Mahatma Gandhi quotes in hind


●•● चिंता एक ऐसी बीमारी है जो आप को अन्दर ही अन्दर से बिल्कुल खोखला बना देती है इसलिए जिसको भी ईस्वर पर विश्वास है उसे कभी भी किसी  चीज के बारे में चिंता नहीं करनी चाहिए।

- महात्मा गांधी

●•● केवल सच ही दुनिया में अकेला खड़ा रहता है उसे किसी के सहारे की जरुरत नहीं पड़ती वो अपने आप पर आत्मनिर्भर रहता है।

- महात्मा गांधी

●•● सच सिर्फ एक होता है और रास्ते अनेक होते है उन सब रास्तो में से बस एक ही रास्ता अच्छा होता है बाकि सब रास्ते हमे बुराई की और ले जाते हैं।

- महात्मा गांधी

●•● अगर आप सच नहीं बोलेंगे तो आपकी पुरी दुनिया झूठी बन जाएगी और सब आपसे झूठ बोलेंगे अगर आप सच बोलेंगे तो सब आपसे सच बोलेंगे।

- महात्मा गांधी

●•● दुनिया में जितने भी लोग अपने आप की बड़ाई खुद करते है वो अपने आप की योग्यता को कम करते है।

- महात्मा गांधी

●•● जो हम दुसरो के साथ करते है वो सब एक दिन हमारे साथ ही होने वाला है चाहे हम अच्छा कर रहे हो चाहे बुरा।

- महात्मा गांधी

●•● गुलाब को उपदेश देने की जरुरत नहीं होती है गुलाब तो अपनी खुशबु से ख़ुशी फेलता है और उसका सन्देश ही उसकी खुशबु होता है।

- महात्मा गांधी

●•● आप मुझे जंजीरों में पकड कर मुझे काट पिट कर मेरे शरीर को ख़त्म कर सकते हो मगर मेरे सोच विचारो को नहीं बदल सकते।

- महात्मा गांधी

●•● अपनी होशियारी के टेलेंट को लेकर निश्चित होना बुद्धिमानी नहीं है आपको याद रखना चाहिए एक ताकतवर आदमी भी कमजोर बन सकता है और होशियार आदमी भी गलती कर सकता है।

- महात्मा गांधी

●•● जीवन का विकास निरंतर चलना एक नियम है और जो आदमी खुद को सही दिखाने की कोशिश में लगा रहता है वह अपने आप को एक गलत स्थिति में डाल देता है और फिर उससे कभी भी बाहर नहीं निकल जाता।

- महात्मा गांधी

●•● मैं तुम्हे शांति से रहने को कहूँगा में तुम्हे प्यार से रहने को कहूँगा में तुम्हारी अच्छाई को देखता हु में तुम्हारी जरुरत समझता हु में तुम्हारी भावना सुन सकता हु।

- महात्मा गांधी

●•● प्रसन्नता और प्यार आपको तभी मिल सकते है जब आप जो सोचते है वही कहते है और वही करते है।

- महात्मा गांधी

●•● अपनी किसी भी गलती को स्वीकार कर लेना झाड़ू लगाने के बराबर होता है जो जमीन को बिलकुल साफ और चमकीला बना देती है।

- महात्मा गांधी

●•● ज्यादा काम आदमी को नहीं मारता आदमी को तो अनियमितता मार डालती है।

- महात्मा गांधी

●•● लड़ते-लड़ते मरना डरते-डरते मरने से बहुत ज्यादा अच्छा है जिससे आपका नाम सब याद कर सके।

- महात्मा गांधी

●•● कमजोर इंसान कभी किसी से माफ़ी नही मांगते माफ़ करना तो ताकतवर इंसान की पहचान होती है कमजोर इंसान माफ़ करने का टेलेंट नही रखता।

- महात्मा गांधी

●•● जो आदमी सच्चा और मन से अच्छा है उस आदमी की सभी चीजे दोस्त होती है।

- महात्मा गांधी

●•● काम करते समय क्रोध करना आपके लिए सही नही है क्योकि क्रोध और असहिष्णुता सही समझ के दुश्मन है।

- महात्मा गांधी

●•● सच सिर्फ एक होता है और रास्ते अनेक होते है उन सब रास्तो में से बस एक ही रास्ता अच्छा होता है बाकि सब रास्ते हमे बुराई की और ले जाते हैं।

- महात्मा गांधी

●•● मैं जब भी नाराज होता हु तो बस एक ही बात सोचता हु की जो सच और प्यार के रास्ते पर चलता है उसकी हमेशा जीत होती है इसलिए आप भी ऐसा ही सोचो।

- महात्मा गांधी

●•● सुबह उठ कर आपका सबसे पले ये काना चाहिए।
1. मैं भगवान के अलावा किसी से नहीं डरता।
2. मैं किसी के बारे में गलत नहीं सोचूंगा।
3. मैं अन्याय के पक्ष में नहीं झुकूँगा।
4. मैं झूठ को सच से जीतूँगा।
5. झूठ का विरोध कर के सभी कष्ट सह सकू।
यह 5 बाते आप अपने अन्दर अपनाये।

- महात्मा गांधी

●•● जो अक्लमंद होते है वो कोई भी काम करने से पहले एक बार उसके बारे में सोचते जरुर है  लेकिन जो मुर्ख होते है वो काम पहले करते है और सोचते बाद में है।

- महात्मा गांधी

●•● सोने और चांदी का मूल्य कुछ नही है असली मूल्य तो हमारे शरीर का है यही हमारे लिए सबसे बड़ा धन है इसका ख्याल रखना सीखो।

- महात्मा गांधी

●•● पाप से जितना बच सकते हो उतना बचो और धरती पर जितने भी पापी है उन सब से प्यार करो तभी इस दुनिया से पाप का खात्मा हो सकता है।

- महात्मा गांधी

●•● औरत का सबसे अच्छा आभूषण उसका चरित्र और पवित्रता होती है।

- महात्मा गांधी

●•● ख़ुशी बाहर से मिलने वाली चीज नहीं है यह तो हमारे अन्दर बसी होती है और यह जब तक बाहर नहीं निकलती जब तक हम घमंड और अहंकार करना छोड़ ना दे।

- महात्मा गांधी

●•● अगर आपका मन कुछ करने को कहता है तो उसे सिर्फ प्यार से करे वर्ना उस काम को मत करो क्योकि प्यार से हर काम सुधर जाते है और गुस्से से बिगड़ जाते है।

- महात्मा गांधी

●•● एक पुस्तक हजारो रत्नो से कही ज्यादा अच्छी होती है क्योकि पुस्तक हमारे अंत:करण को उज्ज्वल बनाती है।

- महात्मा गांधी

●•● बहुत से लोग सोते जागते सफलता के सपने देखते है की हमको सफलता हाशिल हो जाये और कुछ लोग ऐसे होते है जो जागते-जागते सफलता के लिए जी जान से मेहनत करने में लगे रहते है।

- महात्मा गांधी

●•● आदमी अपने विचारो से भरपूर प्राणी है और वो प्राणी जो बनने की सोचता है वहीं बन जाता है इसलिए आप भी कुछ अच्छा सोचो।

- महात्मा गांधी

●•● हो सकता है की जो काम आप कर रहे है उस काम का परिणाम क्या हुआ होगा और अगर आप कुछ काम ही ना करंगे तो उसका परिणाम ही क्या होगा किसी भी काम का परिणाम जब मिलता है जब हम उसे पूरा कर चुके होते है उससे पहले नहीं और परिणाम तो हर काम का होता है।

- महात्मा गांधी

●•● मैं रोज रात को जब सोने के लिए जाता हूँ तो मेरा जीवन समाप्त हो जाता है और जब सुबह जागता हु तो मेरा दूसरा जन्म होता है।

- महात्मा गांधी

●•● दुनिया में जब तक हम सब गलती करने के लिए स्वतंत्र नहीं है तब तक स्वतंत्र का कोई अर्थ नही है और कोई महत्त्व नहीं है।

- महात्मा गांधी

●•● विश्वास जब अँधा हो जाता है तो मर जाता है इसलिए विश्वास को हमेसा तर्क से तोलना चाहिए।

- महात्मा गांधी

●•● अंतरात्मा सबके अन्दर होती है जो भी चाहे अपनी अंतरात्मा की आवाज सुन सकता है।

- महात्मा गांधी

●•● आदमी अपने  चरित्र से महान बनता है ना की अपनी शक्ल और सूरत से।

- महात्मा गांधी

●•● एक बहादुर प्यार का दिखावा कभी नहीं कर सकता यह तो बस एक कायर ही कर सकता है।

- महात्मा गांधी

●•● आप जो भी काम करोगे उसका फल आपको अवश्य मिलेगा लेकिन उसके लिए आपको मेंहनत तो करनी ही पड़ेगी।

- महात्मा गांधी

●•● दुनिया में एक व्यक्ति के लिए कुछ भी असम्भव नहीं है अगर वह अपनी कोशिस पुरी करे तो हाँ इसमें वक्त जरुर लगता है।

- महात्मा गांधी

●•● आपका नर्म व्यवहार सारी दुनिया को बदल सकता है इसलिए हमेशा सबके साथ प्यार से पेश आओ।

- महात्मा गांधी

●•● प्यार की शक्ति में सजा की शक्ति से हजारो गुना ज्यादा शक्ति होती है ।

- महात्मा गांधी

●•● अहिंसा ही जिन्दगी जीने का सही रास्ता है और अहिंसा ही हमारा धर्म है।

- महात्मा गांधी

●•● सच और अहिंसा ही मेरा धर्म है और अहिंसा मेरा साधन है जो भगवान् को पाने में मेरी मदद करता हैऔर मेरा सच मेरा भगवान् है।

- महात्मा गांधी

●•● जिस काम को आप खुद कर सकते हो उस काम को ओरो से करवाने की लालसा मत करो उस काम को खुद ही कर डालो।

- महात्मा गांधी

●•● अगर आपने कोई काम ऐसा किया है जिससे किसी का दिल खुश हुआ है तो उस दिल को ख़ुशी देना ऐसा है जैसे प्रार्थना में झुके हजारो सिर।

- महात्मा गांधी

●•● आदमी वो सब कुछ बन सकता है जो वो सोचता है लेकिन हम अपने आप से बस यही कहते रहंगे की मैं ये नहीं कर सकता वो नहीं कर सकता तो सचमुच में हम कुछ भी नहीं कर पायंगे और अगर हम सोचे की में सबकुछ कर सकता हु तो सच में हम जो कुछ भी करना चाहते हैं वो सब करने की शक्ति पा सकते है।

- महात्मा गांधी

●•● दुनिया को बदलना चाहते हो तो सबसे पहले अपने आप को बदलो तभी आपकी दुनिया बदल सकती है।

- महात्मा गांधी

●•● संसार के सभी धर्म भले ही और चिजो में फर्क मानते हो मगर यह बात सच है की दुनिया में बस सत्य ही जीवित रहेगा।

- महात्मा गांधी

●•● एक औरत या आदमी की नैतिकता उसकी सिफारिश में नहीं होती वह तो उनके दिल में पाई जाती है।

- महात्मा गांधी

●•● पहले तो वो आपको देखेगे ही नहीं फिर वो आप पर खिल-खिला कर हसेंगे  फिर आपसे झगडा करंगे और तब जाकर आप जीत सकेंगे।

- महात्मा गांधी

●•● मेहनत का फल हमेशा मीठा होता है और जो मेहनत करते है उनको उनका फल जरुर प्राप्त होता है।

- महात्मा गांधी

●•● गलती से किया गया पाप और पापो से कही ज्यादा कम होता है लेकिन उसको छुपाना और बड़ा पाप है।

- महात्मा गांधी

●•● अगर हम ठोकर खाकर गिर भी जाये तो हम दोबारा से खड़े हो सकते है लड़ाई से डर कर भागने से तो इतना अच्छा है।

- महात्मा गांधी

●•● अहिंसा आदमी की मानवता के लिए सबसे बड़ी ताकत है यह उस हथियार को ख़त्म कर सकती है जो सबसे खतरनाक है।

- महात्मा गांधी

●•● अच्छा काम करने से इंसान को अच्छी मंजिल प्राप्त होती है।

- महात्मा गांधी

●•● अपने शरीर के विकास के साथ मन का विकास करना आपके लिए अच्छा है और अगर शरीर के साथ मन का विकास नहीं करोगे तो आपको नुकशान जरुर उठाना पड़ेगा।

- महात्मा गांधी

●•● अगर मुझमे हमेशा ( हास्य ) की भावना नहीं होती तो में ना जाने कब का आत्महत्या कर लेता।

- महात्मा गांधी

●•● डर काम में लिया जाता है और कायरता किसी काम में नहीं आती जो कुछ काम की नहीं है।

- महात्मा गांधी

●•● मेहनत का फल हमेशा मीठा होता है और जो मेहनत करते है उनको उनका फल जरुर प्राप्त होता है।

- महात्मा गांधी

●•● विश्वास कोई ढूढने और बटोरने की चीज नहीं है यह तो विकसित करने की क्रिया है।

- महात्मा गांधी

●•● जब आदमी में प्यार की कमी होती है तो उसका बुरा स्वभाव उत्पन होता है और प्यार की कमी निराशा से आती है इसलिए आप कभी निराश मत होना।

- महात्मा गांधी

●•● शक्ति शारीरिक क्षमता से नहीं आती यह तो एक अदम्य इच्छा शक्ति से प्राप्त हो सकती है।

- महात्मा गांधी

●•● प्रार्थना और भजन ऊँची - ऊँची आवाजो से नहीं होते इसको तो मन से भी किया जा सकता है जिसे गूंगे तोतले भी कर सकते है।

- महात्मा गांधी

●•● किसी के दिल को दुखाना सबसे बड़ा पाप है और किसी के दिल को ख़ुशी देना सबसे बड़ा पूण्य।

- महात्मा गांधी





Post a Comment

0 Comments