कांशीराम के 13 अनमोल विचार | Kanshiram Quotes In Hindi

कांशीराम के 13 अनमोल विचार | Kanshiram Quotes In Hindi


कांशीराम के 13 अनमोल विचार | Kanshiram Quotes In Hindi

कांशीराम के 13 अनमोल विचार | Kanshiram Quotes In Hindi



1.) सत्ता पाने के लिए जन आंदोलन की जरूरत होती है, उस जन आंदोलन को वोटों में परिवर्तित करना, फिर वोटों को सीटों में बदलना, सीटों को [सत्ता में] परिवर्तित करना और अंतिम रूप से [सत्ता में] केंद्र में परिवर्तित करना। यह हमारे लिए मिशन और लक्ष्य है।


- कांशीराम


2.) बहुत लंबे समय से हम सिस्टम के दरवाजे खटखटा रहे हैं, न्याय मांग रहे हैं और न्याय नहीं पा रहे हैं, इन हथकड़ियों को तोड़ने का समय आ गया है।


- कांशीराम


3.) जब तक हम राजनीति में सफल नहीं होंगे और हमारे हाथों में शक्ति नहीं होगी, तब तक सामाजिक और आर्थिक परिवर्तन संभव नहीं है। राजनीतिक शक्ति सफलता की कुंजी है।


- कांशीराम


4.) जहाँ ब्राह्मणवाद एक सफलता है, कोई अन्य ’ वाद’ सफल नहीं हो सकता है, हमें मौलिक, संरचनात्मक, सामाजिक परिवर्तनों की आवश्यकता है।


- कांशीराम


5.) मैं गांधी को शंकराचार्य और मनु (मनु स्मृति के) की श्रेणी में रखता हूं जो उन्होंने बड़ी चतुराई से 52% ओबीसी को किनारे रखने में कामयाब रहे।


- कांशीराम


6.) हम सामाजिक न्याय नहीं चाहते हैं, हम सामाजिक परिवर्तन चाहते हैं। सामाजिक न्याय सत्ता में मौजूद व्यक्ति पर निर्भर करता है। मान लीजिए, एक समय में, कोई अच्छा नेता सत्ता में आता है और लोग सामाजिक न्याय प्राप्त करते हैं और खुश होते हैं लेकिन जब एक बुरा नेता सत्ता में आता है तो वह फिर से अन्याय में बदल जाता है। इसलिए, हम संपूर्ण सामाजिक परिवर्तन चाहते हैं।


- कांशीराम


7.) हम तब तक नहीं रुकेंगे जब तक हम व्यवस्था के पीड़ितों को एकजुट नहीं करेंगे और हमारे देश में असमानता की भावना को खत्म नहीं करेंगे।


- कांशीराम


8.) जब तक, जाति है, मैं अपने समुदाय के लाभ के लिए इसका उपयोग करूँगा। यदि आपको कोई समस्या है, तो जाति व्यवस्था को समाप्त करें।


- कांशीराम


9.) जिस समुदाय का राजनीतिक व्यवस्था में प्रतिनिधित्व नहीं है, वह समुदाय मर चुका है।   


- कांशीराम


10.) ऊंची जातियां हमसे पूछती हैं कि हम उन्हें पार्टी में शामिल क्यों नहीं करते, लेकिन मैं उनसे कहता हूं कि आप अन्य सभी दलों का नेतृत्व कर रहे हैं। यदि आप हमारी पार्टी में शामिल होंगे तो आप बदलाव को रोकेंगे। मुझे पार्टी में ऊंची जातियों को लेकर डर लगता है। वे यथास्थिति बनाए रखने की कोशिश करते हैं और हमेशा नेतृत्व संभालने की कोशिश करते हैं। यह सिस्टम को बदलने की प्रक्रिया को रोक देगा। 


- कांशीराम


11.) असली ताकत दिखने वाले कमरे में नहीं बल्कि लिखने वाली स्याही में है


- कांशीराम


12.) जिस समाज की गैर राजनीतिक जमीन मजबूत नहीं होती वह समाज राजनीति में कभी नहीं टिक सकता


- कांशीराम


13.) हमारी लड़ाई सबसे नहीं उनसे है जो जाति मानते हैं उनसे है जो जाति को पूछने वाले धर्मशास्त्र मानते हैं


- कांशीराम


Post a Comment

0 Comments