निकोल टेस्ला कैसे अपने subconscious mind का use करते थे | Nikola Tesla work ethic in hindi

निकोल टेस्ला कैसे अपने subconscious mind का use करते थे | Nikola Tesla work ethic in hindi




निकोला टेस्ला बचपन में इस बात को नहीं जानते थे की उनके विजन और इमैजिनेशन का neural circuit बहुत स्ट्रांग था। वे जो कुछ सोचते थे उसे स्पष्ट रूप से देख सकते थे। दृश्य को पूरी फिलिंग्स के साथ महसूस कर सकते थे। उस दृश्य को अपने मन में बनाए रख सकते थे जिस कारण वह दृश्य अपने अवचेतन मन यानी सबकॉन्शियस माइंड से जुड़ सके।


निकोला टेस्ला साहब अपने मन में जो चाहे देख सकते थे और उसे हकीकत में पैदा कर सकते थे। जब वह स्कूल में थे तब उन्होंने niagara Falls का एक चित्र देखा झरने से गिरते हुए पानी को देखते देखते वह उस चित्र में खो गए। उन्होंने देखा कि एक विशाल पहिया पानी की शक्ति से घूम रहा है निकोला ने अपने अंकल से कहा मैं अमेरिका जा कर एक ऐसी मशीन बनाऊंगा जो पानी से शक्ति ले सके और उन्होंने 30 साल बाद ठीक वैसा ही किया।


जाहिर तौर पर छोटी उम्र में उन्हें अपनी काबिलियत का अंदाजा नहीं था जब निकोला टेस्ला 7 साल के हुए तो उनके भाई की घोड़े से गिरकर मौत हो गई। वह अपनी ऑटोबायोग्राफी में कहते हैं कि मैं इस दुर्घटना को कभी नहीं भुला पाया। उस घटना का दर्द छोटे निकोला के कहीं अंदर अवचेतन में मन में अंकित हो गया। वह कहते हैं कि कई सालों तक मुझे मेरे भाई की मौत का सीन याद आता रहा।


उसके बाद कई वर्षों तक निकोला टेस्ला अकेले रहना पसंद करते थे अगर छोटे निकोला टेस्ला से किसी वस्तु या ऑब्जेक्ट की बात की जाती तो उनके दिमाग में तेज प्रकाश बिजली की तरह चमकने लगता और वह चीज अपने आप सामने दिखने लगती। कई बार वह बात करते-करते बेचैन हो जाते थे क्योंकि उन्हें समझ नहीं आता था कि वह जो देख रहे हैं वह असलियत में है या नहीं जब इस तरह के विजन उन्हें परेशान करने लगे तो उन्होंने कुछ तरीके अपनाएं।


वह अपने मन में एक शहर या बड़ी सी जगह की कल्पना करते हैं और मन ही मन पूरे शहर में घूमते रहते। शहर में किसी नए व्यक्ति से मिलते हैं या फिर अपने पसंदीदा काल्पनिक व्यक्ति को बुलाकर उससे घंटो बातें किया करते यह सब वह 17 साल की उम्र तक करते रहे इसके बाद उनके मन में साइंस की vision, inspiration और problem के solution प्रकट होने लगे।


एक दोपहर पार्क में वह अपने दोस्त के साथ घूम रहे थे और कविता गया रहे थे की अचानक उनकी आंखों के सामने जोर से लाइट चमकी और फिर उन्हें कुछ सर्किट और डिजाइन दिखने लगी और उन्होंने तत्काल उस चित्र को बनाना शुरू कर दिया और 6 साल बाद वही चित्र उन्होंने इलेक्ट्रिक इंजीनियर की सभा में पेश किया और वह चित्र था A.c मोटर्स का Ac motors की यह डिजाइन इतनी इफेक्टिव थी कि आज 120 सालों बाद भी पावर टूल्स और वेक्यूम क्लीनर में उपयोग की जाती है।


अवचेतन मन की शक्ति केवल इंटरनेट और बुद्धि तक सीमित ना होकर पूरे शरीर पर काम करती है निकोला टेस्ला के पिता चाहते थे उनका बेटा पादरी बनकर रिलीजन और फिलॉसफी को आगे बढ़ाएं लेकिन टेस्ला बचपन से साइंस में जाना चाहते थे फिर एक बार किशोरावस्था में निकोला को कोलेरा हो गया और उनकी स्थिति मरणासन्न हो गई पिता ने निकोला टेस्ला के पास आकर कहा कि तुम जल्दी ठीक हो जाओ फिर तुम जो चाहो बन सकते हो चाहो तो मैं तुम्हारा दाखिला इंजीनियरिंग में करा दूं।

आप इसे mind over matter कह लो या healing power of subconscious निकोला टेस्ला कुछ ही दिनों में पूरी तरह ठीक हो गए


तो सवाल यह है कि आप और मैं अपने अंदर यह शक्ति कैसे विकसित करें?


अपनी ऑटो बायोग्राफी में निकोला टेस्ला बताते हैं कि हर दिन सुबह उनके पिता उनकी मेमोरी और रिजनिंग स्किल्स को तेज करने के लिए उन्हें कुछ एक्सरसाइज देते थे जैसे एक दूसरे के मन में चल रहे विचारों का अंदाजा लगाना एक बार सुनने के बाद लंबे वाक्य को बार-बार रिपीट करना इन अभ्यास चलते वह अपनी एकाग्रता और कल्पना शक्ति को विकसित कर पाए जिसके साथ में उनके विजुलाइजेशन भी विकसित होते चले गए।


अगली बात जो निकोला टेस्ला कहते हैं कि दुनिया में ज्यादातर लोग बाहरी चिंतन में फंसे हुए हैं उनको नहीं पता कि उनके अंदर असीम शक्ति काम कर रही है टेस्ला कहते हैं कि में जितने भी इन्वेस्टर्स से मिलता हूं इनमें धैर्य की कमी होती है यह लोग किसी भी कल्पना को अपने अंदर रोकना और उसे नजदीक से क्लीयरली देखना पसंद नहीं करते अगर यह लोग ऐसा कर ले तो वह अपने आईडिया को काम करता हुआ फील या महसूस कर सकते हैं और अपने पैसे और समय का नुकसान बचा सकते हैं।


निकोला टेस्ला के लिए अकेले और शांत रहना बहुत जरूरी था अगली बात वह कहते हैं "Be alone that is the secret of invention"


ओके अगर आप ब्रह्मांड का सीक्रेट जानना चाहते हो तो energy, frequency, vibration के term मैं सोचिए आपका चेतन मन एक रिसीवर है और एक स्त्रोत है। जहां से ब्रह्मांड और सारी नॉलेज प्रकट होती है इसी से संपर्क करने के लिए आप को शांत और सचेत रहने की जरूरत है टेस्ला कहते हैं कि मैंने अपनी सारी पूंजी एक्सपेरिमेंट में लगा दी जिससे मैं नई खोज कर सकूं और मानवता की तरक्की हो।


बॉब प्रॉक्टर अपनी किताब में कहते हैं अवचेतन मन की असीमित पावर और गाइडेंस बिना स्वार्थ के मन की तरफ बहती है। ऐसा दिमाग जो अपने फायदे से बढ़कर सोचता हो चाहे वह लियोनार्डो द विंची हो एलन मस्क हो या टेस्ला इन सबके विजन अपने पर्सनल फायदे से बड़े थे अगर आपको खुद के लिए पैसा कमाने की बजाय लोगों के लिए बेहतर करना हो तो आपके पास अपॉर्चुनिटी आइडिया और इनट्यूशन ज्यादा आएंगे।


➡ सर निकोला टेस्ला के बारे में रोचक जानकारी


जब आपके मन में डाउट नहीं होते तब आप बहुत intense हो जाते हो निकोला टेस्ला बहुत intanse इंसान थे वह जो भी करते हैं उसमें पूरी तरह समा जाते थे। एक बार वह लगातार 84 घंटे तक अपने लैब में काम करते रहे। एक बार वह लगातार 36 घंटे तक पूल खेलते रहे। उनकी सेहत बचाने के लिए उन्हें यूनिवर्सिटी की लाइब्रेरी से उन्हें बैन कर दिया गया था क्योंकि वह दिन रात वहां की किताबें पढ़ते रहते थे। जैसे-जैसे उनके अनुभव बढ़ते गए निकोला टेस्ला की क्वालिटीज भी बढ़ती गई। आज से करीबन 100 साल पहले 1926 में उन्होंने इंटरनेट के साथ-साथ स्मार्टफोन जैसे डिवाइस भी इमेजिन कर लिया था। यह उनके शब्द हैं 

“एक ऐसा वायरलेस नेटवर्क बनेगा जहां पूरी दुनिया एक बड़े दिमाग में बदल जाएगी। कितनी भी दूर से लोग तुरंत आपस में जुड़ पाएंगे एक दूसरे से बात कर पाएंगे और एक दूसरे को देख पाएंगे ऐसा करने के लिए इंसान के पास एक छोटा सा डिवाइस होगा जिसे वह अपने कोट की पॉकेट में रख सकेगा।"


कुछ बातें जो हमने सीखीं


1.) अपने अंदर बसी कल्पना शक्ति को इग्नोर मत कीजिए अपने अंदर किसी सकारात्मक आईडिया को देखना और महसूस करना जरूरी है।


2.) जितना अच्छा आपका Concentration होगा उतनी अच्छी तरह से आप यह प्रोसेस कर पाएंगे इसलिए ध्यान मेडिटेशन या अन्य अभ्यास जरूर करें


3.) हमारा चेतन मन एक रिसीवर है और एक स्त्रोत है जहां से ब्रह्मांड और सारी नॉलेज प्रकट होती है आपको बस शांत और सचेत रहने की जरूरत है।


➡ निकोला टेस्ला का 369 लॉ ऑफ अट्रैक्शन का 17 सेकंड सिद्धांत


➡ अर्नाल्ड श्वाजनेगर Work ethic इन हिंदी


➡ क्रिस्टियानो रोनाल्डो work ethic हिंदी


➡ लियोनेल मेसी work ethic हिंदी


➡ फ्लॉएड मेवेदर की सफलता की कहानी

Post a Comment

0 Comments