लवलीना बोरगोहेन का जीवन परिचय | Lovlina Borgohain biography Match in hindi

लवलीना बोरगोहेन का जीवन परिचय, उम्र, जन्मतिथि, टोक्यो ओलम्पिक, जाती | Lovlina Borgohain biography in hindi (Age, match, religion, cast, height, olympic 2021)


लवलीना बोरगोहेन का जीवन परिचय | Lovlina Borgohain biography in hindi

टोक्यो ओलंपिक्स 2021 के सेमी फाइनल में भी प्रवेश कर चुकी भारतीय महिला बॉक्सर लवलीना बोर्गोहेन ने टोक्यो ओलंपिक्स में जबरदस्त परफॉर्मेंस दिया है। इन्होंने दो बार वर्ल्ड चैंपियनशिप में ब्रॉन्ज मेडल जीता है चीन ताईपे की नीन-चिन चेन के खिलाफ 3-2 का स्कोर बनाकर जीत हासिल की। यह क्वार्टर फाइनल में महिलाओं के वेल्टरवेट (69 किग्रा वर्ग) में उज्बेकिस्तान की मफतुनाखोन मेलीवा (Maftunakhon Melieva) को 5-0 से हराकर ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने वाली असम की पहली महिला एथलीट बन गईं।


लवलीना बोरगोहेन का जीवन परिचय (Lovlina Borgohain Biography in Hindi)


पूरा नाम - लवलीना बोर्गोहेन


जन्म तिथि- 2 अक्टूबर 1997


जन्म स्थान - गोलाघाट असम, इंडिया


उम्र(Age) - 23


होमटाउन - गोलाघाट असम


नागरिकता - भारतीय


धर्म - हिन्दू


जाति - आसामी


रोल - Women’s, 69kg


प्रोफेशन - बॉक्सर


लवलीना बोरगोहेन परिवार (Family)


पिता का नाम - टीकेन बोरगोहेन


मां का नाम - मामोनी बोरगोहेन


सिब्लिंग्स - लीमा और लीना


लवलीना बोरगोहेन कौन है


लवलीना बोर्गोहेन एक भारतीय महिला बॉक्सर है, लवलीना वर्ल्ड चैंपियन ओर ओलंपिक्स में भारत के लिए खेलती हैं। लवलीना टोक्यो में हो रहे ओलम्पिक में भारत की तरफ से खेलते हुए बेहतरीन मैच खेल रही हैं वह 69 किलोग्राम महिला श्रेणी से खेलने वाली एक बहुत ही जबरदस्त बॉक्सर है।


लवलीना बोरगोहेन शरुआती जीवन, जन्म (Lovlina Early life Birth)


लवलीना बोरगोहेन का जन्म असम के छोटे से गांव गोलाघाट में हुआ लवलीना के पिता का खुद का ही एक छोटा सा बिजनेस है। तथा उनकी माता ग्रहणी हैं। लवलीना कि दो बहन लीमा ओर लीना हैं जो नेशनल किक बॉक्सर चैंपियन है। क्योंकि बहनों के बॉक्सर होने के कारण ही उनकी बहनों ने उन्हें प्रोत्साहित किया कि वह भी एक किक बॉक्सर बने फिर उन्होंने कुछ समय तक किक बॉक्सिंग भी की लेकिन इसके बाद उन्हें बॉक्सिंग में ज्यादा अच्छा करियर नजर आया तो उन्होंने किकबॉक्सिंग छोड़कर बॉक्सिंग करना शुरू कर दिया और यहीं से उनके करियर की शुरुआत हुई।


लवलीना बोरगोहेन बॉक्सिंग ट्रेनिंग ओर करियर (Lovlina  Borgohain boxing training, career)


जब लवलीना स्कूल द्वारा कंडक्ट किए गए Sports Authority of India में ट्रायल दे रही थी। तब लवलीना के बॉक्सिंग टैलेंट को नेशनल बॉक्सिंग कोच Podum Boro ने पहचाना Podum Boro की निगरानी में साल 2012 में लवलीना ने अपनी बॉक्सिंग ट्रेनिंग शुरू की। लवलीना की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी उनकी आर्थिक स्थिति बेहद खराब थी लेकिन परिस्थितियां ओर हालात तब ठीक होने लगे जब बॉक्सिंग में उन्होंने हाथ आजमाया ओर नाम कमाया। लवलीना बॉक्सर मैरी कॉम से सबसे ज्यादा प्रेरित थीं लवलीना ने अपनी इंटरनेशनल बॉक्सिंग की ट्रेनिंग कोच Shiv Singh से ली थी।


करियर (Career)


लवलीना ने जूनियर और सीनियर लेवल बॉक्सिंग कंपटीशन में भी हिस्सा लिया ओर इनमें भी बहुत बेहतरीन खेल दिखाया और यह सब कोच Podum Boro से ट्रेनिंग लेने के बाद हुआ। जूनियर और सीनियर लेवल पर बेहतरीन प्रदर्शन करने की बदौलत ही उनका इंटरनेशनल करियर भी जल्दी ही शुरू हो गया 2017 में लवलीना ने अपना पहला इंटरनेशनल डेब्यू President’s Cup in Astana, Kazakhstan में किया था। यहां पर उन्होंने ब्रोंज मेडल 75 किलोग्राम केटेगरी मैं जीता था वह यहां पर भारत के लिए खेल रही थी।


लवलीना बोरगोहेन का टोक्यो ओलम्पिक में बेहतरीन प्रदर्शन (Lovlina olympic 2021)


महिला बॉक्सर लवलीना बोरगोहेन ने टोक्यो ओलम्पिक में बेहतरीन खेल दिखाते हुए सेमीफाइनल में अपनी जगह बना ली है। ओलंपिक्स में लवलीना बोर्गोहेन अपने एक जबरदस्त अंदाज में नजर आई हैं। क्वार्टरफाइनल राउंड में लवलीना ने चीनी ताइपै की बॉक्सर नियेन चिन चेन को 4-1 से हराया। इस शानदार जीत के बाद लवलीना ने भारत के लिए अपना दूसरा मेडल भी पक्का कर लिया है





Post a Comment

0 Comments