10 आदतें आपके दिमाग को नुकसान पहुंचाती है | 10 Brain damaging habits in hindi

10 आदतें आपके दिमाग को नुकसान पहुंचाती है | 10 Brain damaging habits in hindi




10 Brain damaging habits in hindi


आज हम ऐसी 10 आदतों के बारे में जानेंगे जिसकी वजह से जाने अनजाने में आप अपने दिमाग को कमजोर बना रहे हैं। यह आपकी जिंदगी में सफलता के लिए काफी नुकसानदायक हो सकती हैं सभी लोग  सिर्फ इसी पर ध्यान देते हैं कि वह क्या खा रहे हैं क्या पहन रहे हैं लेकिन वह शरीर के सबसे जरूरी हिस्से पर ध्यान नहीं देते। दिमाग को स्वस्थ रखना उतना ही जरूरी है जितना कि दिल और बाकी शरीर के हिस्सों को स्वस्थ रखना है दिमाग शरीर का सबसे नाजुक हिस्सा है और अगर इसे कुछ नुकसान होता है तो यह आपके विचारों पर और आपकी यादों पर बुरी तरह असर डाल सकता है साइंटिस्ट बताते हैं कि आपनी लाइफस्टाइल में कुछ बदलाव करके आप इमैजिनेशन पावर और नॉलेज को और भी बेहतर बना सकते हैं।


1.) अधिक मात्रा में चीनी का सेवन


लंबे समय तक बहुत ज्यादा चीनी खाने से प्रोटीन और न्यूट्रिशंस की Observe करने की कैपिटल  पर असर पड़ता है। इससे कुपोषण हो सकता है जिससे ब्रेन की ग्रोथ कम होती है तो ऐसा क्यों होता है? ऐसा इसलिए होता है क्योंकि हमारे खून में जरूरी न्यूट्रिशंस की कमी होती है और इसी वजह से वह जरूरी न्यूट्रीशन हमारे दिमाग तक नहीं पहुंच पाते और जिससे दिमाग का सही तरीके से विकास नहीं हो पाता है मीठी चीजें और मिठाई आपकी याददाश्त और सोचने की क्षमता को नुकसान पहुंचाती है इसीलिए डार्क चॉकलेट खाना समझदारी होगा जो आपके दिमाग के लिए अच्छा है।


2.) ठीक से नींद नही लेना


नींद की कमी बहुत सी परेशानियां दे सकती है जैसे डिप्रेशन, कमजोर याददाश्त आदि। दिमाग का वह हिस्सा जिसे नींद की कमी से नुकसान पहुंचता है वह Hippocampus होता है यहां तक कि सिर्फ एक रात की अधूरी नींद आपके दिमाग आपके दिमाग की नई जानकारी को ग्रहण करने क्षमता पर असर डाल सकती है बहुत सी रिसर्च से यह भी सामने आया है कि दिमाग खुद को टॉक्सिंस से deep sleep cycle द्वारा साफ करता है नींद की कमी से ब्रेन सेल मर सकते हैं जिससे याददाश्त की कमी हो जाती है।


3.) तेज आवाज में म्यूजिक सुनना


एयरफोन या हेडफोंस में बहुत तेज आवाज में गाने सुनना आप की सुनने की क्षमता को परमानेंट नुकसान पहुंचा सकता है। इससे दिमाग की परेशानियां हो सकती है जैसे याददाश्त का कम होना और आने वाले समय में आपकी ब्रेन टिश्यू को नुकसान पहुंचता है ऐसा इसलिए है क्योंकि आपका दिमाग आपके आसपास की चीजों को समझता है अगर आप उस पर हद से ज्यादा प्रेशर डालेंगे तो उसे जरूर नुकसान होगा।


4.) नाश्ता नहीं करना और पानी को सही मात्रा में नहीं पीना


वक्त बचाने और डाइट करने के लिए बहुत से लोग सुबह का नाश्ता स्किप कर देते हैं बहुत कम लोग जानते होंगे कि नाश्ता ना करने से आपके दिमाग को नुकसान पहुंचता है। एक अच्छी नींद के बाद हर सुबह आपके दिमाग को न्यूट्रीशन चाहिए होते हैं नाश्ता स्किप करने से आपको यह जरूरी न्यूट्रिशंस नहीं मिल पाते बहुत सी रिसर्चर बताते हैं कि जो बच्चे सुबह नाश्ता करते हैं वह स्कूल में बेहतर परफॉर्म करते हैं नाश्ता ना करने से ब्लड ग्लूकोस लेवल कम हो जाता है जो सीधा दिमाग के काम करने पर असर डालता है।


हमारे दिमाग का लगभग 80% भाग पानी है दिमाग को सही तरीके से सोचने और बेहतर ध्यान देने के लिए सही तरीके से पानी की जरूरत होती है इसलिए यह जरूरी है की खूब सारा पानी पीया जाए जो कि दिमाग और शरीर दोनों को बेहतर काम करने में फायदा देगा।


5.) स्मोकिंग


हम सब जानते हैं कि स्मोकिंग से कैंसर होता है और क्या आप जानते हैं कि सिगरेट से निकलने वाली निकोटिन आपका दिमाग सिकुड़ देती हैं यहां तक कि लंबे समय तक दिमाग के सिकुड़ने से अल्जाइमर की बीमारी हो सकती है।


➡ एक मिनट की बर्पी एक्सरसाइज से रहें फिट


6.) बहुत ज्यादा खाना खा लेना


ओवरईटिंग से हमारा वजन बढ़ता है साथ ही जानलेवा बीमारियों का खतरा भी बढ़ता है पर आपको यह भी पता होना चाहिए कि यह आपके दिमाग को आपकी कल्पना से भी ज्यादा नुकसान पहुंचाता है बहुत सी स्टडी से यह पता चला है कि हाई कैलोरी लंबे वक्त तक लेने से एक इंसान की मेमोरी कम हो जाती है। ओवरईटिंग से बचने के लिए आप खाना खाने से पहले एक या आधा गिलास पानी पी सकते हैं।


7.) सर को ढककर सोना


हो सकता है इससे आपको गर्माहट लगे या कंफर्टेबल महसूस हो पर सर को ढककर सोने से कार्बन डाइऑक्साइड का कंजप्शन बढ़ सकता है और ऑक्सीजन का कंजप्शन कम हो सकता है दिमाग को सही तरीके से काम करने के लिए ऑक्सीजन बहुत जरूरी है और इसकी कमी ब्रेन सेल को नुकसान पहुंचा सकती है।


8.) जरूरत से ज्यादा नमक खाना


एक स्टडी में यह साबित हुआ है कि नमक हाई ब्लड प्रेशर का एक बड़ा कारण है नमक आपके ब्लड प्रेशर को इस कदर बढ़ा सकता है जिसे स्ट्रोक होने का खतरा बढ़ जाता है।


9.) बहुत समय तक अकेले रहना


इंसान सोशल कॉन्ट्रैक्ट के लिए बने हैं इससे फर्क नहीं पड़ता है कि आपके कितने फेसबुक फ्रेंड्स हैं असल में आप कितना कनेक्ट होते हैं उससे फर्क पड़ता है। जिंदगी जिनके कुछ करीबी दोस्त होते हैं वह लोग ज्यादा खुश ओर प्रोडक्टिव होते हैं। अगर आप अकेला महसूस कर रहे हैं तो कुछ दोस्तों से बात करें या कुछ नया शुरू करें जैसे डांस करना, गेम्स खेलना जिस में और भी लोग शामिल हो सके।


10.) आप ज्यादा हिलते डुलते नहीं है


एक्सरसाइज की कमी से आपको डायबिटीज, हार्ट डिजीज और हाई ब्लड प्रेशर हो सकता है और यह सब अल्जाइमर से जुड़े हैं आपको मैराथन भागने की जरूरत नहीं है एक आधे घंटे की वॉक भी बहुत है और यह आपको हफ्ते में कम से कम 3 दिन करनी है।


 7 आदतें स्वस्थ जीवनशैली दिनचर्या के लिए


अभी तक आपको लग रहा होगा कि यह सब बातें बहुत आम चीज है जो आप रोज करते हैं। तो वक्त है अब अपने दिमाग पर ध्यान देने का सबसे ज्यादा प्रोडक्टिव बनने के लिए हमें यह सब चीजें करना बंद करना होगी और जल्दी आपका दिमाग आप को थैंक यू बोलेगा।


➡ शाकाहारी तरीके से वजन बढ़ाने के लिए डाइट प्लान

Post a Comment

0 Comments