व्यक्तित्व विकास के लिए 10 सुझाव - Personality development tips in hindi

चरित्र निर्माण और व्यक्तित्व विकास के लिए 10 सुझाव - 10 Personality development tips in hindi


चरित्र निर्माण और व्यक्तित्व विकास के लिए 10 सुझाव - 10 Personality development tips in hindi


हम सब में ऐसा कुछ विशेष जरूर होता है जो हमें औरों से अलग करता है हम ना सिर्फ बनावट में अलग है बल्कि हमारा बिहेवियर हमारा नेचर और हमारे संस्कार भी एक दूसरे से अलग होते हैं और यह सब चीजें ही डिसाइड करती हैं कि हम कौन हैं और हम किस सिचुएशन में किस तरह रिएक्ट करते हैं । सफलता एक ऐसा शब्द है जो बहुत सारे लोगों को चाहिए होता है लेकिन बहुत सारे लोग जिन्हें सक्सेसफुल होना है वह यह नहीं जानते कि पर्सनालिटी डेवलपमेंट ( व्यक्तित्व विकास ) के अंदर ऐसी बात छुपी है जिससे कि आप अपनी पर्सनालिटी को थोड़ा और सुधार लें तो आपको बाकी सब चीजों में बहुत ज्यादा सहायता होगी। पर्सनालिटी डेवलपमेंट में पर्सनालिटी डेवलपमेंट टिप्स जानने से पहले यह जान लेते हैं कि आखिर पर्सनालिटी होती क्या है।


पर्सनालिटी डेवलपमेंट ( व्यक्तित्व विकास ) क्या होता है।


पर्सनालिटी ( व्यक्तिव ) एक इंसान की वह छवि होती है जो वह दूसरों के सामने बनाता है पर्सनालिटी डेवलपमेंट ( व्यक्तित्व विकास ) जानने के बाद हम उन सारी चीजों को जान लेते हैं जो हमारी पर्सनालिटी को कम कर रही होती है, या जो हमारी पर्सनालिटी को नुकसान पहुंचा रही होती है। उन सारी क्वालिटीज को आप को साइड में रख कर आपको उन क्वालिटीज को ध्यान में रखना होता है जो कि आपको दूसरों से अलग बनाती है क्योंकि हम सभी यह जानते हैं कि हम सभी अपने आप मे अनूठे हैं बस जरूरत है तो हमारे अंदर छिपी महत्वकांक्षा को जगाने की और अपने पर्सनालिटी में थोड़ा और निखार लाने की। पर्सनालिटी डेवलपमेंट (व्यक्तित्व विकास) में एक इंसान अपने नेगेटिव फेस से निकलकर पॉजिटिव फेस में एंटर करता है और और अपनी यूनीकनेस को सबके सामने प्रेजेंट कैसे किया जाए वह यह चीज सीखता है। जो भी चीज आपको अपने आप मे लगती है कि वह हमारी पर्सनालिटी को नुकसान पहुंचा रही है उस चीज़ को आपको बिल्कुल नही करना है।


10 Best Personality development tips in hindi - व्यक्तित्व विकास के लिए सुझाव


थोड़ी देखभाल और थोड़ा साझा करना सीखें


आपको सीखना होगा कि आप ज्यादा दयावान कैसे हो सकते हैं और दूसरों को कैसे माफ कर सकते हैं यह एक सीधी सी बात है। क्योंकि हम सभी को पता है कि हम में से कोई भी मिस्टर पर्फेक्ट या मिस परफेक्ट तो नहीं है हम सभी अपनी लाइफ में कुछ ना कुछ हर पल सीखते रहते हैं क्योंकि हम इंसान गलतियों का पुतला है और गलतियां हर किसी से होती है तो इसलिए अब अगली बार आपसे किसी छोटे या किसी बड़े से कोई ऐसी गलती हो जाए जो आपको कहीं हर्ट कर रही है तो उसको जाने दीजिए। चीजों की गांठ बांधकर कभी भी ना बैठे हैं क्योंकि जिंदगी बहुत छोटी है हमें पता नहीं अगले पल क्या हो जाए और हम उसके लिए पछतावा करते रहे इसलिए जरूरी है कि आप छोटी-मोटी गलतियों को जाने दें और अगर आप ऐसा करते हैं तो इससे आप लोगों को बेहतर तरीके से समझ पाएंगे।


• कम्युनिकेशन स्किल्स सीखें


जब भी आप लोगों से बात करते हैं तो आपके दिमाग में और आपके दिल की भावनाओं को आप किस तरह से लोगों के सामने रख पा रहे हैं यह चीज बहुत जरूरी होती क्योंकि कई बार ऐसा होता है कि हमारे शब्द कुछ और बोल जाते हैं और हमारी भावनाएं कुछ और होती हैं जब हम किसी को अपनी बातों से आघात नहीं करना चाहते और लोगों को हमारी बातों से कुछ और ही फील हो जाता है तो इसीलिए ऐसी सिचुएशन में बहुत जरूरी हो जाता है कि आप अपने शब्दों को बहुत ही सोच समझ कर बोले ताकि जो आप कहना चाह रहे हैं जो आप लोगों सुनना चाह रहे हैं लोगों से वह चीज आपको रिटर्न भी मिल सके।


• रोज कुछ ना कुछ अच्छा पढ़ने की आदत बनाएं।


आपने भी यह आदत कई सक्सेसफुल लोगों में देखी होगी जो रोज कुछ ना कुछ अच्छी किताबें पढ़ते हैं जैसे बिल गेट्स, मार्क जकरबर्ग, एलोन मस्क, जेफ बेजोस आदि। पढ़ने से ना सिर्फ आपका सामान्य ज्ञान अच्छा होगा बल्कि आपके व्यक्तित्व का विकास भी होगा क्योंकि जब हमें चीजों के बारे में अच्छी समझ होती है, चीजों के बारे में अच्छा ज्ञान होता है तो हम अपनी बात को दूसरे के सामने बेहतर तरीके से रख पाते हैं और उसका हमारे पर्सनालिटी ( व्यक्तित्व विकास ) पर अच्छा प्रभाव पड़ता है जैसे मैं आपको उदाहरण दूं;  आप अपने साथ वाले दो या तीन लोगों के साथ खड़े हैं और वह लोग वर्तमान में हो रही राजनीति की घटनाओं के बारे में बात कर रहे हैं लेकिन आपको पता ही नहीं है कि वर्तमान में राजनीति में क्या चल रहा है में तो आप वहां पर चुपचाप ही खड़े रहेंगे क्योंकि आपको कुछ पता ही नहीं है इसीलिए आपको चीजों को जानना जरूरी है अपडेट रहना जरूरी है क्योंकि जब आप लोगों से बात करते समय अपनी बात को पूरे आत्मविश्वास के साथ रखते हैं तो इससे आपका व्यक्तित्व विकास निखरता है और आपका आत्मविश्वास भी बढ़ता है।


➡ खुद को बेहतर बनाने के 10 तरीके - best self improvement tips in hindi


• प्रोटॉन की तरह हमेशा सकारात्मक रहें


एक प्रोटॉन अपनी सकारात्मकता कभी भी नहीं छोड़ सकता ठीक उसी तरह आपको भी अपना पॉजिटिव एटीट्यूड कभी भी नहीं छोड़ना है। यह सिर्फ समय का का फेर होता है जब परिस्थितियां करवट लेने लगती हैं और उस समय हम इंसान ज्यादातर नेगेटिव चीजों के बारे में सोचने लगते हैं जो कि बिल्कुल गलत है हमें किसी भी सिचुएशन में हमेशा पॉजिटिव रहना चाहिए जैसा कि आप सभी जानते हैं कि रात के बाद दिन और दिन के बाद रात जरूर आती है ठीक उसी तरह आपकी खुशी के पलों के बाद थोड़ा दुख आएगा और फिर दुख के बाद फिर खुशी आएगी क्योंकि यह समय है और समय तो हमेशा बदलता ही रहता है हमेशा कोई इंसान कभी सुखी नहीं रहता और हमेशा कोई इंसान कभी भी दुखी नहीं रहता तो इसीलिए आपको हमेशा पॉजिटिव रहना है कभी भी नेगेटिव नहीं सोचना है और जब आप पॉजिटिव एटीट्यूड रखते हैं तो आप बड़ी से बड़ी मुश्किल की को बहुत ही आसानी से पार कर जाते हैं और आपका यही पॉजिटिव एटीट्यूड आपके पास पॉजिटिव एनर्जी को भी लेकर आता है।


• लोगों की प्रशंसा करें


आप जब भी किसी से मिले तो लोगों को की प्रशंसा जरूर करें क्योंकि हम सभी मे कुछ ना कुछ तो अच्छा जरूर होता है जब भी आप लोगों को उनके अच्छे काम की सराहना करते हैं तो आपके अंदर पॉजिटिव वाइब्स आने लगती हैं और यही पॉजिटिव वाइब्स आपकी एक बेहतर इंसान की छवि लोगों के सामने बनाती है।  जब भी आप ऐसा करते हैं तो आपके अंदर भी वह क्वालिटी आने लगती हैं जिससे आप एक बेहतर इंसान बनते हैं।


• धैर्य रखें


जब भी आप हड़बड़ाहट में कोई डिसीजन लेते हैं तो उस डिसीजन में आपको नुकसान ज्यादा और फायदा कम हो सकता है इसलिए जरूरी है कि जब भी आप हड़बड़ाहट में होते हैं तो लंबी गहरी सांस जरूर लें क्योंकि हमारे दिमाग को प्रॉपर फंक्शन करने के लिए ऑक्सीजन की जरूरत होती है लेकिन जब भी हम हड़बड़ाहट में होते हैं तो हम गलत डिसीजन करने लगते हैं इसीलिए जरूरी है कि आप अपने दिमाग को कंट्रोल जरूर करें।


➡ अवचेतन मन कैसे काम करता है - subconscious mind work in hindi


• सांस लेना या ध्यान करने की कला सीखें


अक्सर लोग इस छोटी सी बात को ज्यादा इग्नोर करते हैं जिसकी वजह से उन्हें बहुत ज्यादा कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है क्योंकि इस छोटी सी टेक्निक को अमल में लाते हुए आप अपनी फिजिकल, मेंटल, और इमोशनल स्ट्रेस लेवल को काफी हद तक कम कर सकते हैं और एक बहुत ही हेल्दी लाइफ को एंजॉय कर सकते हैं।


• उत्साही रहें


कोई भी आप काम कर रहे हैं तो उसे गर्मजोशी के साथ करना सीखें मान लीजिए आपके पास कोई टास्क है और आप उस टास्क में अपना इंटरेस्ट दिखाते हैं और आप गर्मजोशी और पैशनेट होने के साथ उस काम को कर रहे हैं तो आपका वह काम ऐसे खत्म हो जाएगा की आपको पता भी नहीं चलेगा और आपका इंटरेस्ट उस काम में पूरा बना रहेगा जिसके अंदर आपको हंड्रेड परसेंट सफलता जरूर मिलेगी।


• विषम परिस्थितियों पर खुद को कंट्रोल करें


कही भी अपनी इमोशंस को परिस्थितियों पर हावी ना होने दें मतलब कि आपका कंट्रोल हर एक परिस्थितियों पर होना चाहिए कभी भी सिचुएशन के अंदर बहुत ज्यादा घुसने की जरूरत नहीं है। अगर आप ऐसा करते हैं तो आप कठिन परिस्थितियों में भी अपने दिमाग को शांति रख सकेंगे।


 12 brain rules for human - मानव के लिए मस्तिष्क के 12 नियम


• खतरों का सामना साहस के साथ करें


खतरों का सामना साहस से करें और उनके सामने झुके नहीं जब भी आपके सामने ऐसी कोई परिस्थितियां हों कि आपको लगे कि यह कोई बड़ी समस्या है तो उसको समस्या ना समझ कर उसे एक चैलेंज की तरह फेस करें क्योंकि आपका दिमाग चैलेंज शब्द को हमेशा से एक्सेप्ट करते आया है बचपन से लेकर अभी तक। जब भी हमारे सामने एक शब्द चैलेंज आता है तो आपका दिमाग आपको यह संदेश देता है कि हां यह चैलेंज है और इसको मुझे एक्सेप्ट करना चाहिए वहीं अगर आप इसे एक समस्या की तरह देखेंगे तो आप इसे से पार नहीं कर पाएंगे इसलिए जरूरी है कि जब भी आपके सामने कोई चैलेंज आए तो उसका सामना जरूर करें इसमें सिर्फ दो ही बातें हो सकती या तो आप इसमें जीत जाएंगे या फिर आपको इसमें अपने जीवन के लिए बहुत अच्छी सीख मिलेगी।


➡ एलन मस्क कैसे नई चीजें सीखते हैं - learn about new things in hindi


आप इन पर्सनैलिटी टिप्स ( व्यक्तित्व विकास टिप्स ) को डेली रूटीन में शामिल कर कुछ ना कुछ थोड़े बहुत बदलाव करने लगे तो आपको बहुत ही अच्छे रिजल्ट मिलने लगेंगे अक्सर हमने देखा है कि पर्सनालिटी डेवलपमेंट ( व्यक्तित्व विकास ) में लोग अपने आउटलुक पर ज्यादा ध्यान देते हैं और अपने इनर लुक्स पर बिल्कुल भी ध्यान नहीं देते। 

यह जरूरी है कि जब भी आप किसी से मिलने जाएं तो आप अच्छे कपड़े पहन कर जाएं आप लोगों से अच्छी तरह से बात करें अगर आप खुद से खुश नहीं है तो आप किसी को भी खुश नहीं कर पाएंगे इसलिए अपने इंटरनल लुक्स को और ज्यादा डेवलप करें क्योंकि ;

Beauty attracts the eye but personality captures the heart.☺



Post a Comment

0 Comments