खुद को मोटिवेट रखने के 7 तरीके | self motivation in hindi

खुद को प्रेरित करने के 7 तरीके |Self motivation in hindi


self motivation in hindi दोस्तों कभी कभी ऐसा होता है जब भी हम किसी भी मोटिवेशनल स्पीकर को सुन रहे होते हैं या उनका वीडियो देख रहे होते है तब हमारे अंदर भी अपने लक्ष्य को पाने का एक जुनून ओर उत्साह पैदा होता है लेकिन क्या यह ज्यादा देर तक रह पाता है, क्या हम दूसरे दिन भी खुद को उतना ही मोटिवेट रख पाते हैं? नहीं ना। यदि आपको जीवन मे एक ऊंचा लक्ष्य प्राप्त करना है तो खुद को हमेशा प्रेरित भी रखना होगा आपको खुद को प्रेरित करने का तरीका पता होना चाहिए। आपको अपनी आत्मा को उच्च रखने में सक्षम होना चाहिए चाहे वह किसी भी स्थिति में कितना भी निराशाजनक क्यों न हो। हम आपको self motivation के 7 तरीके बताने जा रहे है जिस से की आप खुद को motivate रख सकें तो चलिए पढ़ते हैं self motivation in hindi

Self motivation in hindi

SELF MOTIVATION IN HINDI



1. एक कारण होना

आप जिस उद्देश्य की परवाह करते हैं उससे अधिक प्रेरणा का एक और शक्तिशाली स्रोत मैं नहीं सोच सकता। ऐसा कारण आपको कठिनाइयों के सामने भी अपना सर्वश्रेष्ठ देने के लिए प्रेरित कर सकता है। यह आपको असंभव प्रतीत होने वाली चीजों को करने में मदद कर सकता है।

जबकि अन्य कारण आपको अस्थायी रूप से प्रेरित कर सकते हैं, एक कारण जो आपके लिए मायने रखता है वह आपको अनिश्चित काल के लिए प्रेरित कर सकता है। यह प्रेरणा का झरना है जो कभी नहीं सूखेगा। जब भी आप सोचते हैं कि आप प्रेरणा से बाहर हैं, तो आप हमेशा प्रेरणा की एक नई खुराक प्राप्त करने के लिए आपके कारण आ सकते हैं।

2. खुद से कहें, सब ठीक है।

जब कभी भी हमारे सामने मुसीबतें या कठिन परिस्थिति आ जाती है तो, बोहोत ज्यादा निराश ओर खुद को कमजोर समझने लगते हैं, जब भी आप इस दौर से गुज़र रहें हो आप खुद को तसल्ली दें कि में खुश हूँ ओर सारी परिस्थिति मेरे नियंत्रण में है, ऐसा करके आप अपने दिमाग को एक सकारात्मक सिग्नल भेज रहे हैं जब यह सिग्नल दिमाग मे जाता है तब वह भी उसी तरह से काम करने लगता है, आप अपने दिमाग को को जितना अपने नियंत्रण में रखेंगे उतना ही अच्छा सोच पाएंगे।

अगर आप कठिन परिस्थितियों में भी मुस्कुराना जानते हो तो आप खुद को मजबूत पाओगे ओर पहले से अच्छा महसूस कर पाओगे, हमे हमेशा अपनी सोच सकारात्मक रखनी होगी जैसे: में जो सोच सकता हूँ वह में कर भी सकता हूँ, मुझे खुद पर भरोसा है, में अपना लक्ष्य जरूर हासिल करूँगा, में बोहोत साहसी हूँ इस तरह से बोलकर आप खुद पर विश्वास करना शुरू कर देते हैं, खुद को प्रेरित करते हैं! परिस्थितियां केसी भी हो आप खुद से कहें कि सब कुछ मेरे नियंत्रण में है सब कुछ ठीक है ऐसा खुद से तब तक कहें जब तक यह सच न हो जाये इस से आपको सकारात्मक परिणाम मिलेंगे।

3. शुरुआत छोटी ही हो

शुरआत अगर छोटे कदम से हो तो दूर तक चला जा सकता है, क्योंकि हम में से बोहोत से लोग पहले ही बड़े लक्ष्य बना लेते हैं और जब वह प्राप्त नही हो पाते हैं तो खुद को वह डिमोटिवट कर लेते हैं, छोटे छोटे लक्ष्य बनाए उन्हें हासिल करें और आगे बढ़ते जाएं।

लक्ष्य हासिल करने का सबसे अच्छा तरीका है, आप एक नोटबुक में अपने हर दिन के छोटे से बड़े काम को लिख सकते हैं आप अपने हर छोटे से बड़े लक्ष्य को उसमे लिख सकते हैं ओर एक समय के साथ उन्हें हासिल कर सकते हैं जैसे आज यह लक्ष्य जो बनाया है इसे आज इस समय हासिल करना ही है कैसे भी करके, इस तरह से आप अपना टारगेट पूरा होने तक उस पर टिके रह सकते हैं, इस तरह से आपमे एक आत्मविश्वास आएगा आप प्रेरित होंगे, ओर एक एक करके अपने छोटे छोटे लक्ष्य को हासिल करते हुए आगे बढ़ते चले जाएंगे।

यह भी पढ़ें➡ लक्ष्य कैसे प्राप्त करें।

4. कुछ पाने की भूख

सही मायने में अगर देखा जाए तो आपको अंदर कुछ पाने की भूख होना चाहिए, क्योंकि सिर्फ एक इच्छा से ही कुछ नही होगा, जब तक आपमे चीजों को बुरी तरह से चाहने की भूख नही होगी, तब तक आप रास्ते मे आने वाले मुश्किल समय से अच्छी तरह से नही लड़ पाएंगे भूख जो होती है वह सबसे अच्छे कलाकार व औसत दर्जे के लोगों के बीच अंतर करती है।

कुछ करना ही सब कुछ नही है,इसके लिए आपको भूखा भी रहना होगा! आपकी मंजिल के रास्ते मे आने वाली मुसीबतों से लड़ने के लिए आपकी प्रेरणा बिल्कुल सम्मोहक होना चाहिए।
- लेस ब्राउन

भूख कैसे हो सकती है? आपका कारण और आपका सपना यहां एक बड़ी भूमिका निभाता है। यदि आपके पास कोई कारण है जिसकी आप परवाह करते हैं और इससे संबंधित एक बड़ा सपना है, तो आपके अंदर भूख होनी चाहिए। अगर आपको लगता है कि आप भूख खो रहे हैं, तो आपको बस इतना करना है कि आप अपने कारण और सपने को फिर से जोड़ दें। उन्हें ओर खुद को प्रेरित करें और भूख को वापस लाएं, याद रखें जब तक आपमे कुछ पाने की भूख और अंदर एक आग जलती रहेगी तब तक आप आने वाले मुश्किल समय मे भी आसानी से उनका हल ढूंढ पाएंगे।

5. असफल होने पर एक कदम और उठायें

जब आप अपने लक्ष्य के रास्ते में आने वाली बाधाओं को पूरा करते हैं, तब आदतन आपको यह लग सकता है कि अब इस कार्य को छोड़ देना चाहिए, अब यहां से आगे बढ़ना बहुत मुश्किल है आप यह सोच सकते हैं कि सपना हासिल करना असंभव है लेकिन यही वह जगह है जहां आप जीतने वाले और हारने वाले के बीच अंतर देख सकते हैं, दोनों एक ही तरह की मुसीबतों और कठिनाइयों का सामना करते हैं, फिर भी वह एक बात जो विजेता को अलग बनाती है, वह है उसका साहस।

सफलता अंतिम नहीं है विफलता घातक नहीं है मायने यह रखता है कि आप में इसे जारी रखने के लिए साहस कितना है
- विंस्टन चर्चिल

परिस्थितियों कितनी भी कठिन क्यों ना हो, अपना ध्यान बस एक कदम और आगे बढ़ाने पर लगाओ दौड़ पूरी करने के बारे में मत सोचो, इस बारे में बिल्कुल मत सोचो कि आपके लिए और कितनी रुकावटें हैं, बस अपना एक और अगला कदम उठाते रहो और आगे बढ़ते रहो!

6. खुद की तुलना ना करें

जब आप खुद की तुलना दुसरो से करते हो तब आप खुद को ही अपनी नजरों में गिराते हो, जब आप किसी भी काम को पूरे जोश के साथ शुरू करते हो तब आप दूसरों से तुलना करने के साथ ही अपनी उर्जा खो दोगे।

में यह कोशिश नहीं करता कि में दूसरों से बेहतर डांस करूँ, में खुद से बेहतर डांस करने की कोशिश करता हूँ।
- मिखाइल बेरिसनिकोव

लेकिन आपको ऐसा नही करना है,यह आपकी दौड़ है, सबकी अपनी अलग अलग क्षमता होती है इसलिए दूसरे लोग कैसा प्रदर्शन कर रहे हैं यह मायने नही रखता है, मायने बस यही रखता है कि आप अपना सर्वश्रेष्ठ कर रहें हैं या नहीं,दूसरों से खुद की तुलना करना बंद करो आपका एकमात्र प्रतियोगी आप खुद ही हैं आपको खुद से ही जीतना है और खुद को ही हराना है, आपकी प्रतियोगिता किसी ओर से नही खुद से ही है।

यह भी पढ़ें➡ प्रेणादायक अनमोल विचार हिंदी में।

7. अपने अतीत को भूले

आप माने या ना माने लेकिन एक बात जो हम सभी को डीमोटिवेट करती है वह है हमारा अतीत आपका अतीत आपको मोटिवेट रहने से पहले ही पीछे खींच सकता है, आपका अतीत आपके मन के भाव को भारी नुकसान पहुंचा सकता है, यह एक ऐसा बोझ है जो आपके वर्तमान समय को भी क्षति पहुंचाता है जो हो चुका है उसके बारे में सोचना छोड़ दें!

प्रत्येक दिन समाप्त करें और इसके साथ भी यही करें, आप जो कर सकते थे आपने किया।
- राल्फ वाल्डो इमर्सन

आज एक नया दिन है और आपके पास पूरे मन से और खुशी से शुरू करने का मौका है, आपका दिल कितना भी बुरा क्यों ना हो आपके भविष्य में आने वाले समय में एक अच्छा उज्जवल भविष्य है, बस अपने अतीत के बोझ को आप अपने मन पर हावी ना होने दें!